जयपुर , एएनआइ। पुलवामा आतंकी हमले के बाद भारत-पाक के बीच बनी तनाव अब भी बरकरार है। हाल में जैश-ए-मुहम्मद चीफ अजहर मसूद के ग्लोबल टेरेरिस्ट घोषित होने के बाद भी पाकिस्तानी सेना ने भारतीय क्षेत्र में जमकर सीज फायर का उल्लंघन किया था। ऐसे में जब आज (शुक्रवार) शाम पाकिस्तानी वायु सीमा से एक कार्गो प्लेन बिना अनुमति भारतीय क्षेत्र में घुसा तो हड़कंप मच गया। भारतीय वायु सेना (Indian Air Force) के मुस्तैद फाइटर जेट्स ने पाकिस्तान की तरफ से आ रहे उस अज्ञात विमान की आपात लैडिंग करा दी।

जानकारी अनुसार प्लेन के पायलटों और अन्य कर्मचारियों से पूछताछ के बाद उन्हें छोड़ दिया गया है। जयपुर के एडिशनल पुलिस आयुक्त ने बताया कि यह जहाज गलती से भारतीय सीमा में घुस गया था। यह कोई गंभीर मामला नहीं है। सुरक्षा चिंताओं के कारण इस विमान को जयपुर में उतारना पड़ा था। पायलटों से पूछताछ करने के बाद विमान को छोड़ दिया गया। 

पुलवामा अटैक के बाद से ही सीमावर्ती इलाकों में भारतीय वायु सेना समेत अन्य सुरक्षा बलों को हाई अलर्ट पर रखा गया है। इसी का नतीजा है कि पाकिस्तान की तरफ से आ रहे अज्ञात प्लेन के भारतीय सीमा में घुसते ही एयर फोर्स के फाइटर जेट्स ने उसे घेर कर जयपुर एयरपोर्ट पर उतार लिया।

वायु सेना पूरे विमान की जांच की। जयपुर एयरपोर्ट पर उतारा गया विमान एक कार्गो प्लेन है। न्यूज एजेंसी एएनआई के अनुसार शुक्रवार को पाकिस्तान की वायु सीमा से कार्गो प्लेन एंटोनोव AN12 भारतीय वायु में दाखिल हुआ था।

यह विमान एंटोनोव एएन-12 हैवी कार्गो प्लेन है जो जॉर्जिया का बताया जा रहा है। इस विमान को कराची से दिल्ली की तरफ जाना था, लेकिन इसने अचानक अपना रूट बदल लिया। यह विमान गुजरात से भारतीय सीमा में घुसा और राजस्थान की तरफ बढ़ा।

न्यूज एजेंसी एएनआई के अनुसार कार्गो प्लेन एंटोनोव एएन-12 ने भारतीय वायु सीमा में रण ऑफ कच्छ एयरबेस से प्रवेश किया, जो कि नागरिक हवाई यातायात के लिए बंद है। भारतीय वायुसेना के प्रवक्ता ग्रुप कैप्टन अनुपम बनर्जी ने बताया कि कराची से उड़ान भरने के बाद जॉर्जिया का यह विमान अपना रास्ता भटक गया और भारतीय वायु सीमा में प्रवेश कर गया। इसके बाद उसे भारतीय लडाकू विमानों ने जयपुर में उतरवा लिया।

सूत्रों ने बताया कि जैसे ही वायु सेना को रडार पर इस अज्ञात विमान का पता चला, उन्होंने दो लड़ाकू विमान सुखोई SU-30 MKK को अलर्ट कर दिया गया। इसके बाद फाइटर जेट्स ने कार्गो विमान के चालक दल को चेतावनी जारी की, लेकिन उनकी तरफ से कोई जवाब नहीं मिला। इसके बाद करीब चार बजे दोनों सुखोई फाइटर जेट्स ने जोधपुर एयरबेस से उड़ान भरी और जॉर्जिया के इस विमान को घेर कर जयपुर एयरपोर्ट पर इसकी फोर्स लैंडिग कराई।

संदेह होने पर वायुसेना के दो लड़ाकू विमानों ने इसे घेरा लिया और जयपुर एयरपोर्ट पर फोर्स लैंडिंग कराई। लैंडिंग के बाद जॉर्जियन विमान के दोनों पायलटों से पूछताछ की गई। वायुसेना, पुलिस और इंटेलिजेंस एजेंसियों के अधिकारी पायलट से पूछताछ की। साथ ही पूरे विमान की बारिकी से जांच की गई।

सैन्य सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार इस कार्गो विमान ने जैसे ही भारतीय वायुसीमा में अपने निर्धारित मार्ग को बदला तो सुखोई विमान सक्रिय हो गए। वायु सेना के फाइटर जेट्स ने तुरंत उड़ान भरकर आसमान में ही कार्गो को घेर लिया। इसके बाद कार्गों के पायलट को चेतावनी देते हुए उसे घेरकर जबरन जयपुर एयरपोर्ट पर लैंडिंग करने को मजूबर कर दिया।

जानकारी के अनुसार विमान अपना रास्ता भटक गया था। भारतीय वायुसीमा में प्रवेश से पहले यह कराची एयरपोर्ट पर उतरा था। भारतीय वायुसेना, एयरपोर्ट पर तैनात सीआईएसएफ और पुलिस ने इस बारे में अधिकारिक रूप से जानकारी देने से इंकार कर दिया। उल्लेखनीय है कि एंटोनोव एएन-12 चार इंजन वाला टर्बोप्रोपेलर माल वाहक विमान है, जिसे सोवियत यूनियन में डिजाइन किया गया था। परिवहन विमान में इसका इस्तेमाल काफी होता है।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Tanisk

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप