नई दिल्ली। आतंकवाद के मुद्दे पर पाकिस्तान की दोहरी चाल एक बार फिर उजागर हो गई है। मुंबई हमले को लेकर पाकिस्तान ने जो चार्जशीट तैयार की है, उसमें हमले के मास्टर माइंड हाफिज सईद का नाम नहीं है। इससे स्पष्ट है कि पाकिस्तान सरकार ने हाफिज सईद को इस मामले में क्लीन चिट दे दी है।

इस बारे में एक अंग्रेजी अखबार में प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक पाकिस्तान की ओर से दायर चार्जशीट में लश्कर-ए-तैयबा के संस्थापक और जमात-उद-दावा के प्रमुख हाफिज सईद का नाम नहीं है। जबकि भारत हाफिज सईद को मुंबई हमले का मास्टरमाइंड मानता है।

पाकिस्तानी चार्जशीट में लश्कर के कमांडर जकीउर रहमान लखवी को हमले का मास्टरमाइंड बताया गया है। लखवी ने दूसरे आतंकियों के साथ मिलकर कराची और थंट्टा में ट्रेनिंग कैंप बनाए जहां अजमल कसाब को भी ट्रेनिंग दी गई थी।

भारत की चार्जशीट में सईद के साथ लश्कर-ए-तैयबा के आतंकी डेविड हेडली और पाक सेना के दो अफसर मेजर इकबाल और मेजर समीर अली को हमले का मास्टरमाइंड बताया गया था। 11 हजार 280 पेज की चार्जशीट में दो भारतीय नागरिक फहीम अंसारी और सबाहुद्दीन अहमद को भी आरोपी बनाया गया है।

पाकिस्तान की नापाक हरकत से यह साफ हो गया है कि वह हाफिज सईद के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं करना चाहता।

पढ़ें: पाकिस्तान ने हाफिज सईद को बताया मासूम

पढ़ें: सईद पर सुबूत जुटाना पाकिस्तान की जिम्मेदारी: भारत

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस