संतोष शर्मा, अलीगढ़। APJ Abdul Kalam Death Anniversary हेलो, मैं डॉ. कलाम साहब का सेक्रेटरी बोल रहा हूं। कलाम साहब 10 से 15 मिनट में आपके घर आ रहे हैं। विज्ञान रत्न लक्ष्मण प्रसाद को जब ये खबर मिली तो हैरान रह गए। जब तक घर में तैयारी करते पूर्व राष्ट्रपति डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम काफिले के साथ उनके मैरिस रोड स्थित आवास पर पहुंच चुके थे। एक घंटे तक पूर्व राष्ट्रपति उनके घर पर रहे। बहुत सारी बातें की और नाश्ते में दो इडली और कॉफी ली। 27 जुलाई को डॉ. कलाम की पांचवी पुण्यतिथि है। लक्ष्मण प्रसाद का उनसे गहरा लगाव था। पांच पुस्तक वह डॉ. कलाम पर लिखे चुके हैं।

एएमयू में दीक्षा समारोह 18 जून, 2008 को था, जिसमें डॉ. कलाम थे। डॉ. कलाम छात्रों से रूबरू होना चाहते थे, इसलिए उन्होंने एक दिन पहले ही आने का कार्यक्रम रखा। 17 जून की शाम डॉ. कलाम अलीगढ़ आ गए। शाम को उन्हें केनेडी हॉल में छात्रों को संबोधित करना था। तय कार्यक्रम से कुछ समय पहले एसएसपी रहे असीम अरुण उन्हें अपनी अगुआई में लक्ष्मण के घर ले गए थे।

पहले कर दिया था इन्कार: लक्ष्मण बताते हैं कि वह दिन मेरे लिए बहुत खास था। कलाम साहब से मैंने अनुरोध किया था कि जब अलीगढ़ आएं तो मेरे घर जरूर आएं। समय अभाव के कारण उन्होंने आने से इन्कार कर दिया। शाम को उनके सेक्रेटरी का फोन आया तो मैं अवाक रह गया। उस दिन घर पर मेरी पत्नी नहीं थीं। बेटी ने ही इडली व कॉफी तैयार की। कलाम साहब ने दो इडली लीं और कॉफी पी। लक्ष्मण ने बताया कि डॉ. कलाम से उनकी मुलाकात 2000 में दिल्ली से पुणे जाते समय विमान में हुई। 10 से 5 मिनट की मुलाकात में ही डॉ. कलाम उनसे प्रभावित हुए। इसके बाद मिलना-जुलना बना रहा।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस