ओडिशा, एएनआइ। ओडिशा सरकार ने चक्रवाती तूफान 'फानी' के संभावित खतरे को लेकर अपने दक्षिणी और तटीय जिलों को सतर्क कर दिया है। मुख्य सचिव आदित्य प्रसाद पाढ़ी ने ओडिशा राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (ओएसडीएमए) को स्थिति पर करीबी नजर रखने का निर्देश दिया है, साथ ही संबंधित विभागों को चक्रवात की किसी भी संभावित खतरे से निपटने के लिए सभी तैयारियां पूरी रखने को कहा है।

मौसम विभाग ने अनुमान जताया है कि 1 मई की शाम तक यह उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ेगा। विभाग ने फानी के कारण केरल, आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु और ओडिशा के इलाकों में अगले कुछ दिन बारिश का पूर्वानुमान जताया है।

मुख्य सचिव एपी पाढ़ी ने एक उच्च स्तरीय बैठक के बाद मीडिया से बात करते हुआ कहा कि चक्रवात फानी के ओडिशा में आने की संभावना नहीं है, लेकिन यह राज्य के तटीय इलाके से होकर गुजरेगा। इसके प्रभाव से राज्य में भारी बारिश और 60 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल सकती हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, फानी अगले 12 घंटों में खतरनाक तूफान में बदल सकता है। इसे देखते हुए मौसम विभाग ने केरल समेत सभी दक्षिण भारतीय राज्यों से सावधानी बरतने को कहा है।

बता दें कि 1 मई से 3 मई तक बंगाल की खाड़ी से लेकर तमिलनाडु, पुडुचेरी और दक्षिण आंध्र प्रदेश के तटों पर तेज हवाएं चलेंगी। चक्रवात फानी के कारण आंध्र प्रदेश के तटीय इलाकों में प्रशासन सतर्क है।

Posted By: Nitesh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस