[विकास कुमार कुमार], हजारीबाग। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वच्छ भारत मिशन अभियान की आवाज सात समंदर पार तक पहुंच चुकी है। अभियान का ही असर है कि हजारों मील दूर बैठे एक एनआरआइ रात्तेश गुंम्बर भी इससे प्रभावित हो गए। अभियान का मुरीद होने का असर यह हुआ कि हजारीबाग के सुदूरवर्ती गांव प्रजापत नगर में हर घर में शौचालय बनवा दिया। रात्तेश पिछले दस सालों से आस्ट्रेलिया में रह रहे हैं। हजारीबाग उनका ससुराल है। आस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड, भारत और अमेरिका में आइटी सेक्टर में कारोबार कर रहे रात्तेश पंजाब के फिराजेपुर के पहने वाले हैं। वे वहां आइटी अलायंस कपनी के सह-संस्थापक और मुख्य कार्यपालक पदाधिकारी हैं।

60 घरों में बनाया शौचालय 
प्रधानमंत्री के स्‍वच्‍छ भारत अभियान से प्रभावित होने के बाद रात्तेश गुम्बर ने आस्ट्रेलिया के अपने एनजीओ विजन-20-20 की मदद से हजारीबाग से 60 किलोमीटर दूर चौपारण प्रखंड के प्रजापत नगर को खुले में शौच से मुक्‍त करने की पहल की। इसके लिए अपने ससुर के एनजीओ नव भारत जागृति केंद्र की  मदद ली। एक बार स्वयं गांव गए। इसके बाद 60 घरों में शौचालय का निर्माण कराया। प्रत्येक शौचालय के लिए 12 से 14 हजार की राशि ग्रामीणों को मुहैया कराई। फंड विजन 20-20 के माध्यम से उपलब्ध कराया। असर यह हुआ कि सभी घर में शौचालय का निर्माण पूरा हो गया। दूसरी ओर ग्रामीण इतने प्रभावित हुए कि शौचालय निर्माण के लिए स्वयं एनजीओ को एक हजार रुपये दान दिए।

बनाए गए शौचालय काम करते रहें इसके लिए शौचालय में नियमित रुप से पानी आए इसका भी ध्यान रखा गया। जब दोबारा इस वर्ष जनवरी माह में पहुंचे तो ग्रामीणों ने उनका जोरदार स्वागत किया।  सबसे बड़ी बात यह है कि गांव में वर्तमान में सभी शौचालय इस्तेमाल में हैं।  लोग शौचालय का उपयोग कर रहे हैं। रात्‍तेश बताते हैं कि वे प्रधानमंत्री मोदी जी की बातों से प्रभावित हुए। अगर हम स्वच्छ रहेंगे तभी स्वच्छ भारत की कल्पना की जा सकती है। इसके लिए शौचालय जरूरी है। इस वजह से ही मैंने शौचालय निर्माण के बारे में सोचा। यहां के ग्रामीणों की सोच बदली है। 

 छह सौ करोड़ निवेश की है योजना 
रात्तेश गुम्बर की कंपनी आइटी अलायन्स आस्ट्रेलिया के अलावा भारत समेत, न्यूजीलैंड व अमेरिका में अपनी सेवाएं दे रही हैं। उनकी अगले सात वर्षों में भारत में 600 करोड़ रुपये के निवेश की योजना है। रात्तेश अमेरिका व यूएई में काम कर चुके हैं। वही आस्ट्रेलिया सरकार के कार्यकारी प्रबंधन समिति के लिए काम किया है।

Posted By: Tanisk

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप