कृष्ण मुले, इंदौर। मध्य प्रदेश के इंदौर में सिख समाज के वरिष्ठ नागरिकों के लिए एक बड़ी पहल की शुरुआत की गई है। इनके पास गुरु का लंगर पहुंचाने की व्यवस्था की गई है। यह पहल सिख समाज की सर्वोच्च संस्था श्री गुरु सिंह सभा ने की है। गुरु के लंगर के लिए वरिष्ठ नागरिकों को सिर्फ एक फोन गुरु सिंह सभा के गुरुद्वारा इमली साहिब स्थित कार्यालय पर करना होगा। सेवादार लंगर लेकर संबंधित व्यक्ति के पास पहुंच जाएगा। इस सेवा का नि:शुल्क लाभ 55 वर्ष से अधिक उम्र के वरिष्ठ नागरिक नियमित रूप से ले सकेंगे। 

550वें प्रकाश पर्व के उपलक्ष्य में योजना शुरू की गई

गुरु सिंह सभा के प्रचार प्रमुख देवेंद्र सिंह गांधी का कहना है कि देश में सिख समाज में इस तरह की यह पहली सेवा होगी। गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व के उपलक्ष्य में सिख समाज द्वारा वरिष्ठ नागरिक के लिए यह योजना शुरू की गई है। शहर में सिख समाज के लोगों की जनसंख्या में करीब 70 हजार है। इसमें से 20 हजार लोग ऐसे हैं, जो वरिष्ठ नागरिक की श्रेणी में आते हैं।

आर्थिक या शारीरिक रूप से असक्षम लोगों को फायदेमंद

यह सेवा खासतौर पर उन लोगों के लिए फायदेमंद है, जो अलग-अलग कारणों से आर्थिक या शारीरिक रूप से असक्षम हैं। इसके अलावा कई ऐसे बुजुर्ग होते हैं, जिन्हें अपनों का साथ नहीं मिल पाता या किसी कारण से उनके बच्चे बाहर रहते हैं। ऐसे में अक्सर देखा जाता है कि उन्हें भोजन संबंधी परेशानी का सामना करना पड़ता है। गुरु सिंह सभा की इस पहल का ऐसे बुजुर्गो को बहुत लाभ मिलेगा।

जरूरतमंद लोगों की सेवा करना है मकसद

गुरु सिंह सभा के प्रधान मनजीत सिंह भाटिया ने बताया कि इस सेवा की शुरुआत के पीछे मकसद जरूरतमंद बुजुर्गो तक गुरु का लंगर पहुंचाना है। एक फोन पर उनके पास गुरु का लंगर पहुंचा दिया जाएगा।

गुरु सिंह सभा के महासचिव जसबीर गांधी ने यह सेवा शारीरिक रूप से असमर्थ, बेघर बुजुर्ग और अपने परिवार से अलग रहने वालों वरिष्ठ नागरिक के लिए शुरू की गई है। ऐसे लोगों की जानकारी हमें दी जा सकती है, जिन्हें टिफिन सेवा की आवश्यकता है।

 

Posted By: Tanisk

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस