नईदुनिया, उज्जैन। प्रसिद्ध महाकाल मंदिर में तीन सितंबर को हुई भस्मारती के बाद एक मॉडल द्वारा फूहड़ वीडियो बनवाने के मामले में प्रशासन ने कार्रवाई की है। युवती को नोटिस भेजा गया है। जवाब आने पर आगे की कार्रवाई की जाएगी। इधर, लगातार हो रही इस तरह की घटनाओं से मंदिर की सुरक्षा और निगरानी व्यवस्थाओं पर सवाल उठ रहे हैं। 

Image result for madal nandani in mahakal temple
श्रद्धालुओं ने जताई नाराजगी 
गौरतलब है कि तीन सितंबर को तड़के भस्मारती देखने आई मुंबई निवासी मॉडल नंदनी कुरील ने मंदिर परिसर में फूहड़ तरीके से पोज देते हुए फोटो और वीडियो बनवाए थे। छह सितंबर को मॉडल ने सोशल साइट्स पर ये वीडियो पोस्ट किए। इसके बाद वीडियो वायरल हो गए।
इसे लेकर श्रद्धालुओं ने भी नाराजगी जताई है। मुंबई की मॉडल को मंदिर समिति ने तीन सितंबर के लिए नंदी हॉल की भस्मारती अनुमति जारी की थी। भस्मारती दर्शन के बाद युवती ने परिसर और ओंकारेश्वर मंदिर में वीडियो बनवाया था। मामले की जांच की जा रही है।


प्रतिबंधित वस्तुओं पर रोक प्रभावी नहीं 
मंदिर के भीतर पॉलीथिन, मोबाइल, कैमरा,बैग, झोले, शस्त्र आदि कई वस्तुएं ले जाने पर प्रतिबंध है। इसके बावजूद रोज बड़ी संख्या में दर्शनार्थी प्रतिबंधित वस्तुओं को भीतर ले जाते हैं।

मॉडल नंदनी को नोटिस दिया गया है। जवाब मिलने पर आगे की कार्रवाई करेंगे। मंदिर की व्यवस्थाओं को लगातार बेहतर बनाने का प्रयास हो रहा है।

मनीष सिंह, कलेक्टर एवं अध्यक्ष महाकाल मंदिर प्रबंध समिति

 

Posted By: Arun Kumar Singh