नई दिल्ली (प्रेट्र)। सीमा पर पाकिस्तान की नापाक हरकतों और घाटी में हो रहे आतंकी हमलों का असर सीमा पार की यात्रा करने वाले श्रद्धालुओं पर नहीं पड़ेगा। विदेश मंत्रालय के अनुसार, 'भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव के बावजूद पाकिस्तान की यात्रा करने वाले तीर्थयात्रियों पर कोई पाबंदी नहीं लगाई जाएगी।' विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार से जब  पूछा गया कि क्या भारत से पाकिस्तान जाने वाले तीर्थयात्रियों पर कोई पाबंदी लगाई जाएगी। उन्होंने कहा, बिल्कुल नहीं।

गौरतलब है कि विदेश मंत्रालय का बयान पाकिस्तान के आरोपों के बाद आया है। दरअसल, पाकिस्तान ने भारत को नई दिल्ली स्थित पाकिस्तानी उच्चायोग से श्रद्धालुओं की वीजा अर्जियां वापस लिए जाने को लेकर जिम्मेदार ठहराया है। जिसके बाद विदेश मंत्रालय ने स्पष्टीकरण दिया।

बीते कुछ दिनों पर पाकिस्तान सीमा पर उकसाने वाली हरकतें कर रहा है। क्रॉस फायरिंग की आड़ में पड़ोसी मुल्क घाटी में घुसपैठ करने के लिए आतंकियों की मदद कर रहा है। जम्मू के सुंजवां आर्मी कैंप पर आतंकी हमले में भी आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद का हाथ सामने आया। जिसका मुखिया मसूद अजहर पाकिस्तान के संरक्षण में पल रहा है। इस महीने आतंकियों ने जम्मू के सुंजवां आर्मी कैंप, श्रीनगर के सीआरपीएफ कैंप और कुपवाड़ा के अवंतीपुरा के CRPF कैंप पर हमला बोला। जिसके बाद पाकिस्तान के खिलाफ एक और सर्जिकल स्ट्राइक करने की आवाज उठने लगी।

Posted By: Nancy Bajpai

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप