जागरण न्यूज नेटवर्क, नई दिल्ली। कड़ाके की ठंड से पूरे उत्तर भारत में ठिठुरन बढ़ गई। पहाड़ी राज्यों में बर्फबारी जारी रहने से मैदानी प्रदेशों में शीतलहर अपने पूरे रंग में है। हिमाचल प्रदेश में रोहतांग दर्रे पर बर्फीले तूफान में फंसने से दो लोगों की मौत हो गई, जबकि एक को बचा लिया गया। तूफान में चार लापता हैं, जिनकी तलाश की जा रही है। बर्फबारी के चलते लगातार दूसरे दिन भी जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग बंद रहने से कश्मीर का शेष देश से सड़क संपर्क कटा रहा। जगह-जगह सैकड़ों वाहन फंसे हुए हैं। मौसम के मिजाज को देखते हुए प्रशासन ने उच्च पर्वतीय इलाकों में हिमस्खलन की आशंका जताई।

दिल्ली, उत्तर प्रदेश, पंजाब व हरियाणा में कोहरे का प्रकोप काफी कम हुआ है। पूरे दिन सूरज व बादलों की लुकाछुपी चलती रही। उत्तर प्रदेश के कुछ इलाकों में हल्की बारिश होने से जनजीवन बेहाल हो गया। न्यूनतम तापमान में जहां पांच डिग्री की वृद्धि हुई, वहीं अधिकतम तापमान तीन डिग्री सेल्यिसस नीचे रिकॉर्ड किया गया।

उत्तराखंड में रविवार को चोटियों पर हुई बर्फबारी व निचले इलाकों में हल्की बारिश के बाद ठंडक बढ़ गई। देहरादून में न्यूनतम तापमान में 4.7 डिग्री सेल्सियस की गिरावट आई।

हिमाचल प्रदेश में भारी बर्फबारी के कारण रोहतांग दर्रा व मनाली-लेह मार्ग बाधित है। रविवार को लाहुल के थिरौट में कार खाई में गिरने से घायल हुए आठ लोगों को हेलीकॉप्टर से भुंतर अस्पताल लाया गया। अधिकारियों के मुताबिक, मंगलवार को छोटे हेलीकॉप्टर की व्यवस्था की जाएगी, जो रोहतांग दर्रे पर राहत व बचाव कार्य को अंजाम देगा।

जम्मू-कश्मीर में राष्ट्रीय राजमार्ग पर जगह-जगह सैकड़ों वाहन फंसे हुए हैं। प्रशासन गाड़ियों को निकालने की हर मुमकिन कोशिश कर रहा है, लेकिन लगातार जारी हिमपात से मुश्किल हो रही है। राजमार्ग बंद होने से जम्मू व श्रीनगर में सैकड़ों यात्री फंस गए।

इस बीच, बनिहाल में फंसे करीब 50 यात्री वाहनों को श्रीनगर की तरफ रवाना किया गया। मंगलवार को मौसम ठीक रहने की सूरत में ही राजमार्ग को एक तरफा यातायात के लिए खोला जा सकता है।

इधर, पीरपंचाल पर्वत श्रृंखला समेत वादी के सभी उच्च पर्वतीय इलाकों के साथ शौपियां, पहलगाम, अहरबल, अनंतनाग, कुकरनाग व सिमथनटाप पर बर्फबारी का सिलसिला जारी रहा। श्रीनगर व इसके साथ सटे इलाकों में बर्फबारी तो नहीं हुई, लेकिन दिनभर रुक-रुककर बारिश होती रही। बर्फबारी व कोहरे से काकीजुंग-बारामूला रेल सेवा भी प्रभावित हुई।

पढ़ें: सर्द हवाओं ने छुड़ाई कंपकपी, हवाई, रेल, सड़क यातायात प्रभावित

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप