style="text-align: justify;"> अमरावती, प्रेट्र।  गैर भाजपा शासित छह प्रदेशों के वित्त मंत्री गुरुवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मिलेंगे। वह उन्हें एक ज्ञापन सौंपेंगे, जिसमें 15वें वित्त आयोग के टर्म ऑफ रेफरेंस में संशोधन की मांग होगी।
केरल, पश्चिम बंगाल. पुडुचेरी, पंजाब, दिल्ली व आंध्र प्रदेश के वित्त मंत्री इस प्रतिनिधि मंडल का हिस्सा होंगे। आंध्र प्रदेश के वित्त मंत्री यनामला रामकृष्णनुडु ने कहा कि कोविंद को बताया जाएगा कि किस तरह से राज्यों को इससे नुकसान होगा। उनसे अपील की जाएगी कि वह हस्तक्षेप करके उनके हितों की रक्षा करें।
ध्यान रहे कि इससे पहले सात मई को कई राज्यों के मुख्यमंत्री व वित्त मंत्री की बैठक हुई थी, जिसमें मंथन किया गया था कि किस तरह से टर्म ऑफ रेफरेंस उनकी आर्थिक स्वायत्ता पर अंकुश लगा रहा है। उनका यह भी कहना था कि इससे साफ पता चल रहा है कि कुछ राज्यों के प्रति केंद्र का रवैया कितना भेदभाव पूर्ण है। इनकी मांग है कि टर्म ऑफ रेफरेंस में 13 संशोधन होने चाहिए।

By Manish Negi