तिरुअनंतपुरम। देर से आने वाले वीआइपी के मामले में एयर इंडिया के पायलट ने नजीर पेश की है। पायलट ने देर से पहुंचे केरल के राज्यपाल और सुप्रीम कोर्ट के पूर्व मुख्य न्यायाधीश पी. सतशिवम के लिए फ्लाइट रोकने से इन्कार करते हुए उड़ान भर ली। सतशिवम को मंगलवार रात कोच्चि से तिरुअनंतपुरम के लिए फ्लाइट पकड़नी थी।

एयर इंडिया के अधिकारियों के अनुसार, पहले से ही लेट चल रही दिल्ली-कोच्चि-तिरुअनंतपुरम की फ्लाइट एआइ 048 कोच्चि हवाई अड्डे पर रात 10:58 पर पहुंची थी और इसे 11:40 पर उड़ान भरना था। कोझिकोड में एक कार्यक्रम में शामिल होने आए राज्यपाल को इसी फ्लाइट से राजधानी तिरुअनंतपुरम रवाना होना था। राज्यपाल को फ्लाइट के समय की सूचना पहले से दे दी गई थी।

राज्यपाल अपनी पत्नी के साथ 11:28 पर टार्मेक पहुंचे। उस वक्त तक विमान ने उड़ान नहीं भरी थी, लेकिन उसकी सीढि़यां हटाई जा चुकी थीं और वह पुश-बैक की प्रक्रिया में थी। सूत्रों ने बताया कि एयर इंडिया प्रबंधक द्वारा पायलट को राज्यपाल के पहुंचने की सूचना दी गई थी, लेकिन पायलट ने इंतजार से इन्कार करते हुए फ्लाइट के दरवाजे बंद कर दिए। राजभवन सूत्रों का कहना है कि वह मामले को देख रहे हैं और संबंधित अधिकारियों के समक्ष मुद्दे को उठाया जाएगा। एयर इंडिया के सूत्रों ने भी मामले को देखने की बात कही है। फ्लाइट में न चढ़ पाने के बाद राज्यपाल कोच्चि में ही रातभर ठहरकर सुबह सड़क मार्ग से तिरुअनंतपुरम पहुंचे। दो साल पहले तत्कालीन राज्यपाल निखिल कुमार को ऐसी ही स्थिति का सामना करना पड़ा था।

पढ़ेंः एयर इंडिया के खिलाफ शिकायत दर्ज कराएंगे केरल के राज्यपाल सदाशिवम

Posted By: Sanjeev Tiwari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस