नई दिल्ली, एएनआइ। चीन के साथ एलएसी पर जारी तनाव के बीच बुधवार को केंद्रीय मंत्री नित्यानंद राय ने संसद में बताया कि पिछले छह महीनों के दौरान भारत-चीन सीमा पर कोई घुसपैठ नहीं हुई है। राज्यसभा सांसद डॉ. अनिल अग्रवाल द्वारा पूछे गए एक प्रश्न के लिखित उत्तर में गृह मंत्रालय के राज्य मंत्री ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को हटाए जाने के बाद घाटी में कोई बड़ी घटना नहीं हुई है।

अपने जवाब में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री ने बताया कि इस साल अब तक पाकिस्तान की तरफ से जम्मू-कश्मीर में आतंकी 47 बार घुसपैठ की कोशिश कर चुके हैं। उन्होंने कहा कि फरवरी में एक भी घटना नहीं हुई, मार्च में 4 बार घुसपैठ की कोशिश, अप्रैल सबसे ज्यादा 24 बार घुसपैठ की कोशिश, मई में 8 बार, जून में एक भी घटना नहीं हुई और जुलाई महीने में यह बढ़कर 11 हो गई।

उन्होंने बताया कि 5 अगस्त 2019 के बाद से जम्मू-कश्मीर में आतंकी घटनाओं में काफी कमी आई है। 5 अगस्त से पहले यानी 29 जून 2018 से 4 अगस्त 2019 तक घाटी में आतंकी हमलों की 455 घटनाएं सामने आईं जबकि 5 अगस्त 2019 से 9 सितंबर 2020 तक आतंकी हमलों की 211 घटनाएं सामने आईं।

केंद्रीय गृह राज्य मंत्री जी. किशन रेड्डी ने कहा कि एनआइए की जांच में पता चला है कि इस्लामिक स्टेट (आईएस) केरल, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, महाराष्ट्र, तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल, राजस्थान, बिहार, यूपी, मध्य प्रदेश और जम्मू-कश्मीर में सबसे ज्यादा सक्रिय है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस