जासं, नई दिल्ली: आगामी दिसंबर में मनाए जाने वाले शौर्य दिवस के कार्यक्रमों की तारीख में किसी भी प्रकार का बदलाव नहीं किया गया है।  विश्व हिंदू परिषद ने इसकी पुष्टी की है। विहिप के अंतरराष्ट्रीय महासचिव मिलिंद परांडे ने शुक्रवार को कहा कि प्रतिवर्ष की भांति इस वर्ष भी शौर्य दिवस (गीता जयंती) को पूरे हर्षोल्लास, उत्साह और संयम से मनाया जाएगा।

पिछले दिनों राम मंदिर पर आए सुप्रीम कोर्ट के फैसले बाद कयास लगाए जा रहे थे कि शौर्य दिवस की तारीख में बदलाव किया जाएगा। इस संबंध में मीडिया में चल रही कुछ खबरों का खंडन करते हुए उन्होंने स्पष्ट किया कि श्रीराम जन्मभूमि पर निर्णय हर्ष का विषय है, लेकिन इस कारण शौर्य दिवस के कार्यक्रमों में कोई बदलाव नहीं होगा।

Posted By: Pooja Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस