मुंबई, राज्य ब्यूरो। विवादास्पद इस्लामी प्रचारक डॉ. जाकिर नाइक के विरुद्ध एनआइए ने विशेष अदालत में आरोपपत्र दाखिल कर दिया है। उस पर घृणास्पद भाषणों के जरिये दो समुदायों में वैमनस्य फैलाने, युवाओं को आतंकी घटनाओं में शामिल होने के लिए प्रेरित करने, आतंकी फंडिंग और करोड़ों रुपये की मनी लांडिंग का आरोप लगाया गया है। बुधवार को जांच एजेंसी ने उसके खिलाफ 65 पन्नों का आरोपपत्र दायर किया।

इसके साथ बड़ी संख्या में दस्तावेज भी संलग्न किए गए हैं। इनमें करीब 80 गवाहों के बयान शामिल हैं। एनआइए ने नाइक की 19 अचल संपत्तियों का भी पता लगाया है। इनकी कीमत लगभग 104 करोड़ बताई जा रही है। एनआइए इन संपत्तियों को खरीदने के लिए इस्तेमाल आर्थिक स्त्रोतों का भी पता लगा रही है। एनआइए ने 51 वर्षीय नाइक के विरुद्ध पिछले साल 18 नवंबर को गैरकानूनी गतिविधि रोकथाम अधिनियम (यूएपीए) एवं भारतीय दंड विधान (आइपीसी) की धाराओं के तहत मामले दर्ज किए थे। जाकिर अपने चैनल पीस टीवी के जरिये इस्लाम की दूसरे धर्मो से तुलना करता था। इसमें वह अन्य धर्मो को नीचा दिखाने की कोशिश करता था। मुंबई स्थित उसकी संस्था इस्लामिक रिसर्च फाउंडेशन (आइआरएफ) पर भी युवाओं को बरगलाने का आरोप है। इसके चलते सरकार उसके पीस टीवी पर पहले ही प्रतिबंध लगा चुकी है।

केंद्रीय गृह मंत्रालय भी आइआरएफ को गैरकानूनी संगठन घोषित कर चुका है। हाल ही में ठाणे पुलिस द्वारा गिरफ्तार इकबाल कासकर ने भी कबूला है कि डॉ. नाइक को उसके भाई दाऊद से लगातार आर्थिक मदद मिलती रही है। उस पर अवैध तरीके से करोड़ों रुपये विदेश भेजने का भी आरोप है। प्रवर्तन निदेशालय मनी लांड्रिंग के मामले में भी उसकी जांच कर रहा है।

नाइक पर आतंकी गतिविधियों को प्रोत्साहित करने का आरोप एक जुलाई, 2016 को ढाका (बांग्लादेश) के एक कैफे में विस्फोट के बाद लगा। इस घटना में गिरफ्तार एक युवक ने कहा था कि वह डॉ. नाइक के वीडियो देखकर आतंकवाद के लिए प्रेरित हुआ है। लेकिन, यह बात सामने आने से पहले ही डॉ. नाइक विदेश भाग चुका था। एनआइए ने उसे भगोड़ा आरोपी भी घोषित कर दिया है। पिछले वर्ष नाइक ने विदेश से ही भारतीय पत्रकारों से बात करते हुए स्वयं को निर्दोष बताया था। गिरफ्तारी के डर से वह अपने पिता के निधन पर भी भारत नहीं आया। 
 

यह भी पढ़ेंः अब भारत में पैर पसारना चाहता है ISIS, हो रही है ताबड़तोड़ गिरफ्तारियां

यह भी पढ़ेंः आतंकी सलाउद्दीन के बेटों के घर एनआईए की छापेमारी, मिले अहम दस्तावेज

Posted By: Gunateet Ojha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस