कोच्चि, प्रेट्र। केरल के सोना तस्करी मामले में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने अपनी जांच का दायरा तमिलनाडु तक बढ़ा दिया है। तमिलनाडु में पुलिस सूत्रों ने इसकी पुष्टि करते हुए बताया कि डीआइजी स्तर के एक अधिकारी के नेतृत्व में एनआइए की टीम इस संबंध में चेन्नई में पूछताछ कर रही है। सूत्रों ने हालांकि इस संबंध में और ज्यादा जानकारी देने से इन्कार कर दिया।

एनआइए पूर्व में कह चुकी है कि इस मामले में गिरफ्तार आरोपित पहले भी देश के विभिन्न हवाई अड्डों और बंदरगाहों के जरिये कई बार बड़ी मात्रा में विदेश से सोना ला चुके थे। पिछले हफ्ते विशेष एनआइए अदालत में दाखिल अपनी रिपोर्ट में एजेंसी ने कहा था कि इस मामले की शुरुआती जांच बड़ी साजिश की ओर इशारा करती है जिसमें देश और विदेश के बेहद प्रभावशाली लोग शामिल हैं। जांच में यह भी पता चला कि आरोपितों ने अवैध कारोबार से काफी मुनाफा कमाया है और इसका इस्तेमाल आतंकी फंडिंग के लिए किया जा सकता है।

न्यायिक हिरासत में भेजे गए स्वप्ना और संदीप

इस मामले के दो प्रमुख आरोपितों स्वप्ना सुरेश और संदीप नायर को चीफ ज्यूडिशियल मजिस्ट्रेट कोर्ट (आर्थिक अपराध) ने शनिवार को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया। दोनों पांच दिनों तक सीमा शुल्क विभाग की हिरासत में थे। इससे पहले दोनों एनआइए की हिरासत में थे जिसने उन्हें 11 जुलाई को बेंगलुरु से गिरफ्तार किया था।

कांग्रेस ने सीएम को भेजे सवाल

विपक्षी कांग्रेस ने इस मामले में मुख्यमंत्री को घेरा है। नेता प्रतिपक्ष रमेश चेन्नीथला ने मुख्यमंत्री को एक प्रश्नपत्र भेजा है जिसमें उनके सचिव एम. शिवशंकर और सोना तस्करी गैंग के बीच संबंधों का पता लगाने में विफल रहने समेत कई सवाल उठाए गए हैं। कांग्रेस नीत यूडीएफ ने 'स्पीक अप केरल' के नाम से राज्यव्यापी अभियान की योजना भी बनाई है। सोमवार को पार्टी के राज्य के सभी सांसद, विधायक और नेता घरों या कार्यालयों में धरना देंगे। 10 अगस्त को इसी तरह का विरोध प्रदर्शन 25 हजार वार्डो में किया जाएगा।

Posted By: Dhyanendra Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस