दिवाकर शर्मा, मुंबई। भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी ने खुद पर लगाए गए प्रवेंशन ऑफ मनी लांड्रिंग एक्ट (धन को अवैध रूप से विदेश भेजने का मामला) मामले को चुनौती दी है। कहा है कि प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) और सीबीआइ ने मामले को विशेष अदालतों में अलग-अलग तरीके से प्रस्तुत कर रहे हैं। यह सब उसे एक साथ कई मामलों में फंसाने के लिए किया जा रहा है।

मोदी की ओर से अदालत में पेश अधिवक्ता विजय अग्रवाल ने कहा, मनी लांड्रिंग मामलों की सुनवाई कर रही ईडी की स्पेशल कोर्ट और सीबीआइ की स्पेशल कोर्ट को सभी मामले एक साथ सुनने का अधिकार है। इसलिए कोई एक कोर्ट उससे जुड़े मामलों की सुनवाई करे।

उल्लेखनीय है कि 13,500 करोड़ रुपये के बैंक घोटाला मामले में सीबीआइ और ईडी ने विशेष अदालतों में नीरव मोदी और उसके मामा मेहुल चोकसी के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल कर दिए हैं। दोनों इस समय फरार हैं। एजेंसियां उन्हें पकड़कर देश में लाने का प्रयास कर रही हैं। दोनों ने पंजाब नेशनल बैंक में यह घोटाला किया था।

 

Posted By: Arun Kumar Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप