नई दिल्ली, जागरण डिजिटल डेस्क। अमेरिका में प्रख्यात लेखक सलमान रुश्दी पर जानलेवा हमले को लेकर कांग्रेस नेता शशि थरूर ने कहा कि वह इस घटना से स्तब्ध और भयभीत हैं। शशि थरूर ने ट्वीट करते हुए लिखा कि यह और भी बुरा है अगर रचनात्मक अभिव्यक्ति अब स्वतंत्र और खुली नहीं हो सकती है। कांग्रेस नेता ने सलमान रुश्दी के जल्द ठीक होने की कामना की है।

शशि थरूर ने घटना पर दुख जताते हुए कहा, 'मैं जानता हूं कि इस घटना के बाद उनका जीवन अब पहले जैसा कभी नहीं हो सकता।' थरूर ने सलमान रुश्दी के जल्द ही उनके स्वस्थ होने की कामना करता हूं।

न्यूयॉर्क में मंच पर हुआ हमला

बता दें कि बुकर पुरस्कार से सम्मानित रुश्दी (75) का जन्म मुंबई (Mumbai) में हुआ है। शुक्रवार को पश्चिमी न्यूयॉर्क के चौटाउक्वा संस्थान में आयोजित कार्यक्रम में रुश्दी व्याख्यान देने वाले थे। मगर तभी एक व्यक्ति मंच पर चढ़ा और रुश्दी पर चाकू से हमला कर दिया। रुश्दी पर 10 से ज्‍यादा वार किए गए हैं। सलमान रुश्दी का अस्पताल में इलाज चल रहा है, जहां उनकी हालत गंभीर बनी हुई है।

फतवा जारी होने के 33 साल बाद हमला

साल 1988 में सलमान रुश्दी की किताब 'सैटेनिक वर्सेज' को लेकर काफी विवाद हुआ था। 34 साल पहले सलमान रुश्दी की लिखी इस किताब में पैगंबर की बेअदबी के आरोप लगे थे। 1989 में ईरान की इस्लामिक क्रांति के नेता अयातुल्ला खुमैनी ने रुश्दी के खिलाफ मौत का फतवा जारी कर दिया था। इस फतवे के जारी होने के 33 साल बाद शुक्रवार को अमेरिका के न्यूयॉर्क शहर में सलमान रुश्दी पर जानलेवा हमला हुआ है। 

Edited By: Aditi Choudhary