नई दिल्‍ली, एजेंसी। दिल्‍ली स्थित भारत की संघीय जांच एजेंसी एनआईए (NIA) ने मंगलवार को प्रतिबंधित आतंकवादी संगठन आईएसआईएस (ISIS) के कथित सक्रिय सदस्‍य मोहसिन अहमद को न्‍यायिक हिरासत (Judicial Custody) में भेज दिया। रिमांड खत्‍म होने पर मोहसिन को आज अदालत में पेश किया गया था। उसे 6 अगस्‍त, 2022 को स्‍वंतत्रता दिवस के पहले बाटला हाउस से गिरफ्तार किया गया था।

एनआईए (NIA) कोर्ट के न्यायाधीश धर्मेश शर्मा ने मंगलवार को मोहसिन अहमद (Mohsin Ahmad) को एक महीने के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया क्योंकि एनआईए ने उसके लिए आगे रिमांड की मांग नहीं की थी।

मालूम हो कि एनआईए ने मोहसिन को शनिवार (6 अगस्त) को भारत के साथ-साथ विदेशों से आईएसआईएस के लिए धन एकत्र करने और इसे क्रिप्टोकरेंसी (Crypto Currency ) के रूप में सीरिया और अन्य स्थानों पर भेजने के आरोप में दिल्ली स्थित उसके घर से गिरफ्तार किया था।

एनआईए ने मोहसिन को उसके वर्तमान आवास जापानी गली, जोगाबाई एक्सटेंशन, बाटला हाउस, नई दिल्ली में चलाए गए एक तलाशी अभियान के दौरान गिरफ्तार किया।

जांच एजेंसी ने कहा, ''उसे आईएसआईएस की ऑनलाइन और जमीनी गतिविधियों से संबंधित एक मामले में गिरफ्तार किया गया था। एनआईए ने इस साल 25 जून को स्वत: संज्ञान लेते हुए मामला दर्ज किया था।''

एनआईए ने कहा, ''मोहसिन अहमद आईएसआईएस का कट्टर और सक्रिय सदस्य है। उसे भारत के साथ-साथ विदेशों में आईएसआईएस से सहानुभूति रखने वालों से धन इकट्ठा करने में शामिल होने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है।''

इस आतंकवाद विरोधी एजेंसी ने आगे कहा कि गिरफ्तार आरोपी अहमद आईएसआईएस की गतिविधियों को आगे बढ़ाने के लिए एकत्रित रकम को सीरिया और अन्य स्थानों पर क्रिप्टोकरेंसी के रूप में भेजता था। मामले की आगे की जांच जारी है।

Edited By: Arijita Sen