style="text-align: justify;"> नई दिल्ली (जेएनएन)। पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारी ने माना कि आठ मई को जो चेतावनी मौसम विज्ञान ने जारी की थी, वह अनुमान पर आधारित थी और वह मानते हैं कि भविष्यवाणी करने में चूक हुई थी। गौरतलब है कि आठ मई को मौसम विभाग ने तूफान की चेतावनी जारी की थी।

बता दें कि मौसम विभाग की इस भविष्यवाणी के बाद हर तरफ अफरातफरी मच गई, क्योंकि दो-तीन मई को उत्तर भारत में तूफान से तबाही मच चुकी थी। इस कारण दिल्ली-एनसीआर में तमाम स्कूल बंद करा दिए गए। आलम यह रहा कि लोग अपने घरों में रहें। 

अब मंत्रालय के सचिव एम राजीवनन ने माना कि मौसम विज्ञान ने भविष्यवाणी करने में गलती की थी। मौसम विभाग ने दो व तीन मई के लिए भी ऐसी ही भविष्यवाणी की थी, जो सच साबित हुई।

Posted By: JP Yadav