मुंबई। गोपीनाथ मुंडे की मृत्यु के बाद खाली हुई बीड लोकसभा सीट पर होने वाले उपचुनाव में यदि उनके परिवार का कोई सदस्य उतरता है, तो राकांपा अपना प्रत्याशी नहीं उतारेगी। पार्टी अध्यक्ष शरद पवार ने शनिवार को यह घोषणा की।

वह मुंडे के लिए यहां आयोजित सर्वदलीय प्रार्थना सभा में आए थे। गत 3 जून को नई दिल्ली में एक सड़क हादसे में पूर्व केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्री मुंडे की मौत हो गई थी। पवार ने मुंडे के नम्र व्यवहार और महाराष्ट्र के विकास में उनके योगदान का स्मरण किया।

इस अवसर पर केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने मुंडे को गरीबों और किसानों का हिमायती बताते हुए कहा, मुझे विश्वास है कि मुंडेजी की बेटी पंकजा अपने पिता की मौत के बाद खाली हुए स्थान को भरेंगी।

शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने कहा, मुंडे और प्रमोद महाजन दोनों ही ठाकरे परिवार के करीबी थे। उन्होंने पंकजा को हमेशा एक भाई की तरह साथ देने का आश्वासन दिया। दिवंगत भाजपा नेता गोपीनाथ मुंडे को केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी और पीयूष गोयल तथा राजीव प्रताप रूड़ी सहित बहुत से लोगों ने श्रद्धांजलि अर्पित की।

पवार बना रहे मुख्यमंत्री चह्वाण को हटाने का दबाव