Move to Jagran APP

नौसेना प्रमुख ने पीएम मोदी से की मुलाकात, कहीं भी युद्ध के लिए तैयार रहने का दिया आश्वासन; यहां सैन्य अभ्यास कर रहे नाटो सैनिक

नौसेना प्रमुख एडमिरल दिनेश त्रिपाठी ने प्रधानमंत्री से मुलाकात कर उन्हें भारतीय नौसेना की विभिन्न परिचालन और प्रशासनिक गतिविधियों के बारे में भी जानकारी दी। नौसेना प्रमुख ने पीएम मोदी को कभी भी कहीं भी और किसी भी तरह के युद्ध के लिए तैयार रहने का आश्वासन दिया। उन्होंने कहा कि भारतीय नौसेना को राष्ट्रीय समुद्री हितों की रक्षा के लिए हर समय युद्ध के लिए तैयार रहना चाहिए।

By Agency Edited By: Jeet Kumar Wed, 19 Jun 2024 05:51 AM (IST)
नौसेना प्रमुख ने प्रधानमंत्री को रणनीतिक जल क्षेत्र में बल की युद्धक तैयारी की जानकारी दी

पीटीआई, नई दिल्ली। नौसेना प्रमुख एडमिरल दिनेश के. त्रिपाठी ने मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को रणनीतिक जल क्षेत्र में बल की युद्धक तैयारी और समग्र क्षमताओं के बाबत जानकारी दी। नौसेना प्रमुख ने प्रधानमंत्री से मुलाकात कर उन्हें भारतीय नौसेना की विभिन्न परिचालन और प्रशासनिक गतिविधियों के बारे में भी जानकारी दी।

यह जानकारी नौसेना ने एक्स पर अपने एक पोस्ट में दी। इसमें कहा गया है कि नौसेना प्रमुख ने पीएम मोदी को कभी भी, कहीं भी और किसी भी तरह के युद्ध के लिए तैयार रहने का आश्वासन दिया।

दिल्ली में नौसेना मुख्यालय में तैनात वरिष्ठ नौसेना अधिकारियों को संबोधित करते हुए एडमिरल त्रिपाठी ने कहा कि भारतीय नौसेना को राष्ट्रीय समुद्री हितों की रक्षा के लिए हर समय युद्ध के लिए तैयार रहना चाहिए।

आतंकियों ने लाल सागर में भारतीय जहाज को बनाया था निशाना

पिछले कुछ महीनों में भारतीय नौसेना ने लालसागर के आसपास रणनीतिक जल क्षेत्र में हमले के बाद कई मालवाहक जहाजों की सहायता की है। हूती आतंकियों ने इजरायल पर दबाव बनाने के लिए लाल सागर में व्यापारिक जहाजों को निशाना बनाया। एडमिरल आर हरि कुमार की सेवानिवृत्ति के बाद एडमिरल त्रिपाठी ने 30 अप्रैल को नौसेना प्रमुख के रूप में कार्यभार संभाला है।

बाल्टिक सागर क्षेत्र में सैन्य अभ्यास कर रहे नाटो सैनिक

उत्तरी अटलांटिक संधि संगठन (नाटो) के सदस्य देशों के लगभग 9,000 सैनिक बाल्टिक सागर क्षेत्र में सैन्य अभ्यास में भाग ले रहे हैं। यह क्षेत्र रूस द्वारा यूक्रेन पर आक्रमण के बाद रणनीतिक रूप से संवेदनशील हो गया है। स्वीडन ने पहली बार पूर्ण नाटो सदस्य के रूप में सैन्य अभ्यास में भाग लिया।

नौसेना, वायुसेना और थलसेना के सैनिकों ने बाल्टिक सागर के साथ-साथ स्वीडन और इसके रणनीतिक द्वीप गोटलैंड और लिथुआनिया, पोलैंड और जर्मनी में सैन्य अभ्यास कर रहे हैं। सैन्य अभ्यास गुरुवार तक चलेंगे। इनमें लगभग 50 नौसेना जहाज और 45 विमान और हेलीकाप्टर शामिल होंगे।

रूस के प्रशांत बेड़े ने शुरू किया सैन्य अभ्यास

रूस के प्रशांत बेड़े ने 18 से 28 जून तक होने वाले अभ्यास के तहत अपने सैन्य बलों की तैनाती शुरू कर दी है। स्थानीय मीडिया ने मंगलवार को बताया कि अभ्यास में नौसेना के लगभग 20 विमान और हेलीकाप्टर शामिल होंगे।