नई दिल्ली, एजेंसियां। चीन से सीमा विवाद को देखते हुए भारतीय नौसेना के प्रमुख एडमिरल करमबीर सिंह ने ग्रेट निकोबार द्वीप की कैंपबेल खाड़ी में खड़े आइएनएस बाज का दौरा करके सैन्य अभियान संबंधी तैयारियों की समीक्षा की। शुक्रवार को उन्होंने दिवाली की पूर्वसंध्या पर नौसैनिकों को शुभकामनाएं भी दीं। भौगोलिक रूप से सामरिक महत्व वाले क्षेत्र में स्थित इस नौसैनिक वायु अड्डे पर आइएनएस बाज तैनात है। हिंद महासागर में स्थित यह क्षेत्र अंतरराष्ट्रीय समुद्र मार्गो के गुजरने का बेहद अहम स्थान है। इसी के चलते इस क्षेत्र में सर्वाधिक सैन्य तैनाती है। इस दौरान अभियानों की तैयारी और कमांड के आधारभूत ढांचे का ब्योरा उन्हें अंडमान और निकोबार कमांड के कमांडर इन चीफ लेफ्टिनेंट जनरल मनोज पांडे ने दिया। 

उन्होंने एडमिरल करमबीर सिंह को सुरक्षा के संकट के समय उठाए जाने वाले कदमों का भी ब्योरा दिया। इस मौके पर एडमिरल करमबीर सिंह ने इस अहम सैन्य बेस को हर वक्त ऑपरेशनल रखे जाने पर सभी सैनिकों का आभार व्यक्त किया। अस अवसर पर सैन्य अड्डे पर भारतीय सेना, भारतीय वायुसेना, तटरक्षक, डीएससी और जीआरईएफ के सदस्य मौजूद थे। यहां तक कि रक्षा क्षेत्र में काम करने वाले सिविलियन भी उपस्थित रहे।

इस नौसैनिक वायु अड्डे से युद्धक विमान बंगाल की खाड़ी के दक्षिणी क्षेत्र, दक्षिणी अंडमान सागर, मल्लका धारा और दक्षिणी हिंद महासागर की निगरानी की जाती है। दक्षिणी हिंद महासागर में आइएनएस बाज आपदा की स्थित में स्थान खाली कराने, मानवीय सहायता, राहत कार्य और तलाशी अभियान और बचाव कार्यो में भी अहम भूमिका निभाता है। 

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस