बेंगलूर। नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री बनने पर देश छोड़ने का विवादित बयान देने वाले ज्ञानपीठ पुरस्कार विजेता प्रख्यात कन्नड़ साहित्यकार यूआर अनंतमूर्ति को Xquot;नमो ब्रिगेडXquot; ने एक यात्रा कार्यक्रम भेजा था। अनंतमूर्ति हालांकि बाद में अपने बयान से पलट गए थे।

नरेंद्र मोदी को पीएम बनाने के मकसद से गठित की गई Xquot;नमो ब्रिगेडXquot; के कर्नाटक संयोजक नरेश शेनॉय ने रविवार को यहां कहा, एक्जिट पोल के तुरंत बाद अपने वादे के मुताबिक हमने अनंतमूर्ति को कराची की एकतरफा यात्रा का कार्यक्रम भेजा था।

इसमें उनके लिए 17 मई को श्रीलंकाई एयरलाइंस से बेंगलूर से कोलंबो के रास्ते कराची जाने का कार्यक्रम था। हवाई अड्डे पर पहुंचने के बाद ही यात्रा खर्च का भुगतान करने की बात भी कही गई थी।

यह पूछने पर कि अनंतमूर्ति द्वारा शनिवार को यात्रा नहीं करने के बाद क्या उन्हें दोबारा कार्यक्रम भेजा जाएगा? शेनॉय ने कहा, हम नहीं चाहते कि वह देश छोड़ें। शेनॉय के मुताबिक मोदी के शपथ लेते ही नमो ब्रिगेड समाप्त हो जाएगा।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस