मिड डे, मुंबई। सुशांत मामले में चौतरफा आलोचनाओं के निशाने पर आई मुंबई पुलिस ने दिशा सालियान की मौत के मामले की फिर से जांच शुरू कर दी है। सुशांत की पूर्व मैनेजर दिशा की 8 जून को बहुमंजिली इमारत से गिरने से मौत हो गई थी। पुलिस ने इसे आत्महत्या का मामला बताया था। ताजा जानकारी के अनुसार, मुंबई के मालवानी थाने की पुलिस ने दिशा मामले की जांच की कमान डिप्टी कमिश्नर (डीसीपी) स्तर के अधिकारी को सौंपी है। इसके साथ ही पुलिस उन लोगों पर विशेष नजर रख रही है जो सोशल मीडिया पर इस मामले में अफवाहें फैला रहे हैं।

मंगेतर और दोस्‍तों से पूछताछ

पुलिस को चूंकि अभी तक कोई ठोस सुबूत हाथ नहीं लगा है इसलिए जांच किसी ओर नहीं बढ़ पा रही है। पुलिस ने दिशा के मंगेतर रोहन रॉय और उसके कुछ दोस्तों से पूछताछ की है। इस बीच पुलिस ने मलाड के जनकल्याणनगर की रीजेंट गैलेक्सी इमारत की सीसीटीवी फुटेज हासिल कर ली है जहां से दिशा के छलांग लगाने की बात कही जा रही है।

शरद पवार बोले, सीबीआइ जांच का नहीं करेंगे विरोध

दूसरी ओर राकांपा नेता शरद पवार ने कहा है कि वह सीबीआइ जांच का विरोध नहीं करेंगे। हालांकि उन्‍होंने मुंबई पुलिस की जांच पर भरोसा जताया है। उन्होंने कहा कि वे पिछले पचास वर्ष से अधिक समय से महाराष्ट्र और मुंबई पुलिस की कार्यशैली को देखते आ रहे हैं। उन्हें पुलिस पर पूरा भरोसा है। अगर कोई यह सोचता है कि इस मामले की सीबीआइ जांच होनी चाहिए तो मैं इसका विरोध नहीं करूंगा। वहीं शरद पवार के पौत्र पार्थ पवार ने भी सुशांत मामले की सीबीआइ जांच कराए जाने की मांग की है। वहीं शरद पवार ने पार्थ को अपरिपक्व बताया है।

सिद्धार्थ पिठानी से 14 घंटे तक हुई पूछताछ

सुशांत सिंह मामले में दर्ज मनी लांड्रिंग मामले में ईडी ने मंगलवार को सिद्धार्थ पिठानी से करीब 14 घंटे तक पूछताछ की। सिद्धार्थ करीब साढ़े ग्यारह बजे ईडी के आफिस पहुंचा जहां से 2 बजे के बाद उसे निकलते देखा गया। सूत्रों के अनुसार ईडी ने सवाल किया कि सुशांत उसे वेतन किस तरह देते थे। ईडी ने पिठानी की आये से संबंधित सभी दस्तावेज भी तलब किए थे। उससे ईडी ने दूसरी बार पूछताछ की है। ईडी ने पिठानी से सुशांत की दो कंपनियों के बारे में भी जानकारी मांगी। 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस