कोलकाता [जागरण ब्यूरो]। भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी का जादू बंगालियों के सिर भी चढ़ रहा है। पिछले दो सालों में जिस रफ्तार से भाजपा से जुड़ने वाले सदस्यों की संख्या में इजाफा हुआ है, उससे मोदी के बढ़ते प्रभाव को स्पष्ट रूप से देखा जा सकता है। इस दौरान दोगुने से अधिक लोगों ने पार्टी की सदस्यता ली है।

बंगाल में भाजपा के एक नेता ने बताया कि वर्ष 2011 में राज्य में पार्टी की कुल सदस्यता करीब तीन लाख थी, जो वर्ष 2013 में बढ़कर सात लाख से अधिक हो गई। इसमें से दो लाख नए सदस्य पिछले छह माह के भीतर ही बने हैं। पार्टी के नेता इसका श्रेय निश्चित रूप से नरेंद्र मोदी को देते हैं। भाजपा के प्रवक्ता और बंगाल इकाई के सह प्रभारी सिद्धांत सिंह का कहना है कि पार्टी की युवा शाखा एबीवीपी की सदस्यता में भी बढ़ोतरी हुई है। इसमें पिछले एक साल में ही 45,000 नए कार्यकर्ता जुड़े हैं। जबकि भाजपा की अल्पसंख्यक व महिला शाखाओं की सदस्यता में भी 50 फीसद वृद्धि हुई है। ऐसे में पांच फरवरी को कोलकाता में होने वाली मोदी की रैली के दौरान भाजपा बंगाल में भी अपनी ताकत का बखूबी प्रदर्शन करने की तैयारी में है।

रास के निर्दलीय उम्मीदवार को कांग्रेस का समर्थन

कोलकाता। सात फरवरी को होने वाले राज्यसभा की पांच सीटों के चुनाव में निर्दलीय उम्मीदवार वरिष्ठ पत्रकार अहमद सैयद मलीहाबादी को कांग्रेस ने समर्थन दिया है। पर्याप्त संख्या बल के अभाव में कांग्रेस ने प्रत्यक्ष रूप से अपना प्रत्याशी नहीं खड़ा किया। कांग्रेस के समर्थन के बाद भी इस उम्मीदवार को 11 वोटों की जरूरत पड़ेगी।

पढ़े: सोशल मीडिया पर छाया विश्वास का 'मोदी पाठ'

मोदी के खिलाफ जांच से पीछा छुड़ाने की तैयारी

सर्वे: यूपी ही नहीं बिहार में भी खिलेगा कमल, नीतीश को होगा नुकसान

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस