शिव प्रताप शुक्ल, केन्द्रीय वित्त राज्यमंत्री

हाल में ही जारी आर्थिक विकास दर के हिसाब से हमारा देश भारत दुनिया की सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था है। ऐसे में किसी भी शहर में रोजगार की संभावना, वहां की कौशल विकास योजनाएं कितनी प्रभावी हैं या फिर किसी भी कारोबार के विस्तार के लिए शहर की मूलभूत संरचना कितनी अनुकूल है? यह जानना बहुत जरूरी है। दरअसल शहर, देश के विकास इंजन हैं और इन प्रश्नों के उत्तर में ही उनके विकास का मंत्र छिपा है। जागरण समूह ने 'माय सिटी, माय प्राइड' अभियान में 10 बड़े शहरों के नागरिकों से इन प्रश्नों के उत्तर जानना चाहते हैं।

अपने शहर को शानदार बनाने की मुहिम में शामिल हों, यहां करें क्लिक और रेट करें अपनी सिटी

केन्द्रीय वित्त राज्यमंत्री शिव प्रताप शुक्ल ने 'माय सिटी, माय प्राइड' अभियान को एक अच्छी पहल बताते हुए कहा है कि लोग अपने शहर में उपलब्ध सुविधाओं का स्वयं मूल्यांकन कर रहे हैं और बाद में विशेषज्ञों के साथ विचार-विमर्श कर उपलब्ध संसाधनों के बेहतर इस्तेमाल के लिए अवसर भी तलाश रहे हैं। श्री शुक्ल ने कहा कि यह एक जन भागीदारी कार्यक्रम है और ऐसे इस अभियान की सफलता के लिए प्रशासन-मीडिया के साथ ही सभी नागरिकों को आगे आना होगा। 

आपके सुझाव भी आमंत्रित है:
https://twitter.com/BJPShivPShukla
https://www.facebook.com/BJPShivPShukla/

 

अपने शहर को शानदार बनाने की मुहिम में शामिल हों, यहां करें क्लिक और रेट करें अपनी सिटी

By Krishan Kumar