मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

तिरुचिरापल्ली, प्रेट्र। तमिलनाडु के तुरायूर स्थित एक मंदिर में रविवार को आयोजित धार्मिक अनुष्ठान के दौरान मची भगदड़ में सात श्रद्धालुओं की मौत हो गई, जबकि दस लोग घायल हो गए। मुथियमपलयम गांव के क रूप्पास्वामी मंदिर में 'पडीकसु' (मंदिर का सिक्का) वितरण समारोह का आयोजन किया गया था।

'चित्र पोर्नामी' त्योहार के अवसर पर हर साल यह आयोजन होता है। पुलिस के अनुसार, जब पुजारी ने मंदिर के सिक्कों का वितरण शुरू किया तो उसे लेने के लिए श्रद्धालुओं में भगदड़ मच गई। इस दौरान चार महिलाओं समेत सात श्रद्धालुओं की मौत हो गई, जबकि दस अन्य लोग गंभीर रूप से घायल हो गए।

मंदिर के एक पदाधिकारी ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि पूजा के दौरान भीड़ को नियंत्रित करने का कोई प्रयास नहीं किया गया। यहां तक कि वहां इतने पुलिसकर्मियों की भी तैनाती नहीं की गई थी जो भगदड़ के बाद हालात को काबू में कर पाते।

लोगों की मान्यता, मंदिर के सिक्कों से आती है संपन्नता
क रूप्पास्वामी मंदिर में पूजा के बाद मंदिर के सिक्कों का वितरण मुख्य कार्यक्रम होता है। इसके लिए गांव ही नहीं, बल्कि पूरे क्षेत्र से हजारों लोग मंदिर में इकट्ठा होते हैं। हर कोई मंदिर का सिक्का पाना चाहता है। लोग मंदिर के सिक्के को ले जाकर अपने घरों की तिजोरी में रखते हैं। ऐसी मान्यता है कि इससे उनके घर संपन्नता आती है।

Posted By: Prateek Kumar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप