नई दिल्ली (एएनआई)। खेल मंत्री विजय गोयल ने कलमाड़ी और चौटाला को आईओए का आजीवन अध्यक्ष बनाए जाने के फैसले पर हैरानी जताई है. उन्होंने कहा कि सरकार से बड़ा कोई नहीं है। उन्होंने कहा कि सरकार ने इसकी पूरी जानकारी मांगी है। सरकार जो भी कदम ठीक समझेगी वो उठाएगी। गाेयल का कहना है कि दोनों के ऊपर आपराधिक मामले हैं, गंभीर अपराधिक पृष्ठभूमि होने की वजह से दोनों को मैनेजमेंट की कमेटी से हटाया गया था।

खेलमंत्री का कहना था कि सरकार खेलों में पारदर्शिता की तरफदार है और सरकार चाहती है कि खेलों में गुड गवर्नेंस हो। इसके लिए कोई समझौता नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा कि रिपोर्ट आने के बाद आईओ के अध्यक्ष से बात करके जो भी कार्रवाई जरुरी होगी, सरकार वो करेगी।

गौरतलब है कि राष्ट्रमंडल खेलों में भ्रष्टाचार के आरोपी सुरेश कलमाड़ी को भारतीय ओलंपिक संघ (आईओए) की सालाना आम सभा में आजीवन अध्यक्ष बनाया गया है। उनके अलावा अभय सिंह चौटाला को भी आईओए का आजीवन अध्यक्ष बनाया गया है। इनसे पहले केवल विजय कुमार मल्होत्रा को ही आईओए का आजीवन अध्यक्ष बनाया गया था। वह 2011 और 2012 में आईओए के कार्यकारी अध्यक्ष भी रहे थे।

कॉमनवल्थ घोटाले के आरोपी कलमाडी और चौटाला बने IOA के आजीवन अध्यक्ष

कलमाड़ी 1996 से 2011 तक आईओए अध्यक्ष रहे थे। उन्हें 2010 दिल्ली राष्ट्रमंडल खेलों में घोटाले में संलिप्तता के कारण दस महीने जेल की सजा काटनी पड़ी थी, बाद में उन्हें जमानत पर रिहा कर दिया गया था।वह 2000 से 2013 तक एशियाई एथलेटिक्स संघ के भी अध्यक्ष रह चुके हैं। उन्हें पिछले साल ही एशियाई एथलेटिक्स संघ का आजीवन अध्यक्ष बनाया गया था। वह अंतरराष्ट्रीय एथलेटिक्स महासंघ (आईएएएफ) के भी 2001 से 2013 तक सदस्य रहे हैं।

आम बजट में खेती को भरपूर तरजीह मिलने की संभावना

वहीं चौटाला दिसंबर 2012 से फरवरी 2014 तक आईओए अध्यक्ष रहे थे। चौटाला को मुक्केबाजी की पूर्ववर्ती संस्था भारतीय एमेच्योर मुक्केबाजी महासंघ का भी अध्यक्ष चुना गया था जिसकी विश्व संस्था एआईबीए ने 2013 में मान्यता रद्द कर दी थी। हाल में उन्हें हरियाणा ओलंपिक संघ का अध्यक्ष चुना गया था।

लोढ़ा के ठिकानों पर ED का छापा, कई हाईप्रोफाइल लोगों पर गिर सकती है गाज

राजद्रोह कानून की हो रही है समीक्षा, रिपोर्ट मिलने के बाद बुलाई जाएगी सर्वदलीय बैठक

ममता ने कबूली राहुल की विपक्षी नेतृत्व की अगुवाई

सपना ही रह गया एक समान कर, नोटंबदी पर थम गया साल का सफर

चंदे को लेकर आप पर चौतरफा हमला, भाजपा ने मांगा केजरीवाल का इस्तीफा

केंद्र ने लगाई बीस हजार एनजीओ के विदेशी चंदे पर रोक

Posted By: Kamal Verma

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप