मुंबई, स्मिता श्रीवास्‍तव। ‘धक धक गर्ल’ माधुरी दीक्षित अपने पीढ़ी की एकमात्र अभिनेत्री हैं जो पचास पार उम्र होने के बावजूद ‘टोटल धमाल’ में प्रमुख नायिका थीं। उस उम्र में भारतीय नायिकाओं को अमूमन मां या बहन के किरदार में सीमित कर दिया जाता है। हालांकि माधुरी अपवाद रहीं। उसकी वजह उनकी फिटनेस है। वह काम की व्‍यस्‍तता में स्‍वास्‍थ्‍य की अनदेखी नहीं क‍रती हैं। उन्‍होंने अपनी फिटनेट के राज सखी के साथ साझा किए । आइए इंटरव्यू के मुख्य बिंदुओं पर नजर डालते हैं।

1- आप अपने दिन की शुरुआत कैसे करती हैं?

- मैं अपने दिन की शुरुआत एक ग्लास पानी के साथ करती हूं। सुबह उठते ही मैं सबसे पहले पानी पीती हूं।

2- करियर और लाइफस्टाइल के साथ फिटनेस को आप कैसे मैनेज करती हैं?

- फिटनेस को लाइफस्टाइल बना लेना चाहिए। आप जो फॉलो करते हैं उसे लाइफ स्‍टाइल में शामिल कर लेना चाहिए। मैं कीटो डायट करती हूं, जिसमें लो कार्ब्स होते हैं। मैं अपना दिन उसके मुताबिक ही प्‍लान करती हूं। अगर बाहर खाना खाने भी जाते हैं, तो वही चुनते जो हमारी डायट में शामिल है। जीवन में खुश रहना भी बहुत जरूरी है। कभी-कभी एक दिन चीट भी कर लेना चाहिए।

3- फिटनेस के लिए डेडिकेशन चाहिए होता है। उसके लिए मोटिवेशन होना जरुरी होता है। आपका मोटिवेशन क्या रहा है?

- मेरा मोटिवेशन यही रहा है कि मैं हेल्‍दी रहूं। मैं एक हेल्दी जीवनशैली चाहती हूं। मैं अपने बच्चों को भी वही स्‍वस्‍थ जीवनशैली देना चाहती हूं। अगर मैं उन्हें कुछ सिखाती हूं, तो वह अपने बच्चों को सिखाएंगे। वही मेरा मोटिवेशन है।

4- कोई टिपिकल वर्कआउट है, जिसे आप नियमित रुप से करती हैं?

- मैं योग के साथ पिलेट एक्‍सरसाइज भी करती हूं। पिलेट्स एक बॉडी बिल्डिंग विधि है जो पेट की मांसपेशियों और सांस लेने की प्रक्रिया को स्‍ट्रांग बनाती है। थोड़ा सा वेट ट्रेनिंग भी करती हूं। महिलाओं के लिए थोड़ा वेट ट्रेनिंग जरूरी है, क्योंकि हमारा कैल्शियम जल्दी खत्म होता है, अगर महिलाएं मसल्स बनाएंगी, तो कैल्शियम को शरीर में थोड़ी मात्रा में एकत्र किया जा सकता है। डांस की वजह से थोड़ा एरोबिक्स तो हो ही जाता है। योग फ्लेक्सिबिलिटी के लिए जरूरी होता है। अगर लचीलापन चाहिए तो थोड़ा योग करना चाहिए। ब्रीदिंग एक्‍सरसाइज बहुत जरूरी है। कहते हैं ना प्राण, उसका मतलब हमारी सांसों से होता है। यह सब चीजें मैं नियमित रुप से करती हूं।

5- ऐसी कोई एक्सरसाइज है जो कम ही करना पसंद करती हैं?

- नहीं। बहुत सी एक्‍सरसाइज मैं कर लेती हूं। मगर हां ब्रीदिंग एक्सरसाइजेज बहुत जरूरी है।

6- फिटनेस को लेकर कोई लक्ष्‍य भी बनाती हैं?

- मेरा गोल स्किनी बनना नहीं है। मेरा गोल स्वस्थ रहना है। जब आप स्‍वस्‍थ रहने का तय कर लेते हैं तो उस लक्ष्य तक पहुंचे और फिर उस पर अडिग रहें।

7- एक्सरसाइज के साथ म्यूजिक सुनना भी पसंद है?

- हां, बिल्कुल। मैं मूड के हिसाब से कभी बॉलीलुड, कभी इंग्लिश या कभी डांस के लिए ही जो म्यूजिक बना है वह सुनती हूं। जैसा मेरा डांस विद माधुरी पर एक डांसरसाइज नामक प्रोग्राम है, जो हमने बॉलीवुड के गानों के साथ सेट किया है। वह 10-15 मिनट का है। लेकिन बहुत अच्छा एक्सरसाइज है, आप उससे बहुत सारी कैलोरिज घटा सकते हैं।

8- आपका पसंदीदा और नापसंद खाना क्‍या है?

- मुझे मीठे में मोदक बहुत पसंद है। मुझे टिपिकल महाराष्ट्रीयन कांदे पोहे बहुत पसंद है। एशियन क्यूजिन बहुत अच्छा लगता है। मुझे बैंगन नापसंद है। पता नहीं क्‍यों। ग्रेवी वाली भिंडी वाली पसंद नहीं है। सुखी वाली अच्छी लगती है।

9- जब एक्सरसाइज नहीं कर रही होती हैं, तो फिटनेस का ध्यान कैसे रखती हैं?

- फिटनेस के लिए डायट का ध्यान रखना बहुत जरूरी है। एक्सरसाइज भी करें, लेकिन साथ ही में डायट अच्छा और हेल्दी रखना पड़ेगा। जैसे – सलाद के साथ संपूर्ण आहार हो, उसमें कार्ब्स, प्रोटीन, रफेज होना चाहिए, जिससे डायट संतुलित रहे।

10- महिलाओं को क्या मैसेज देना चाहेंगी?

- हर चीज सीमित और नियंत्रित मात्रा में करना चाहिए। अगर आपको कोई तकलीफ है, तो उसे कल पर न टालें। अपनी सेहत का ध्यान शुरुआत से ही रखें। अगर आपको डायबिटिज है, तो उसकी केयर करें। सालाना चेकअप कराना चाहिए। कभी किसी चीज से डरना नहीं चाहिए। डर के मारे अक्‍सर औरतें अपनी बीमारी के बारे में बताती नहीं है, जब तक बताती है, तब तक बहुत देर हो जाती है। अगर बीमारी से बचना है तो उसकी अनदेखी न करें। जागरुक बनें।

Posted By: Nitin Arora

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप