गुवाहाटी। गुवाहाटी में पिछले सोमवार को एक किशोरी से छेड़छाड़ करने और उसके कपड़े फाड़ने की कोशिश करने का मुख्य आरोपी रविवार की शाम ओडि़सा के भूवनेश्वर रेलवे स्टेशन से गिरफ्तार कर लिया गया। इससे पहले पुलिस ने इसी अपराध में शामिल दो और आरोपियों को गिरफ्तार किया। इस मामले में एक सब इंसपेक्टर को भी निलंबित कर दिया गया है।

जांचकर्ताओं ने एक सामाजिक कार्यकर्ता के उन आरोपों की भी जांच शुरू कर दी है, जिसमें कहा गया था कि एक टीवी पत्रकार ने इस घटना के लिए भीड़ को उकसाया था। टीम अन्ना के सदस्य और असम के किसान नेता, अखिल गोगोई ने शनिवार को मीडिया के सामने नौ जुलाई को हुई इस घटना की छह वीडियो क्लिपिंग दिखाई थी और आरोप लगाया था कि 'न्यूज लाइव' चैनल से जुड़े एक स्थानीय पत्रकार ने इस घटना को अंजाम देने के लिए भीड़ को उकसाया था।

अखिल ने ये क्लिपिंग्स असम के डीजीपी को सौंपी है और कहा है कि अगर जरूरत पड़ी तो वह इसकी मूल वीडियो फुटेज भी उपलब्ध कराएंगे। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि हमने 9 जुलाई को हुए इस अपराध में शामिल दो और लोगों को गिरफ्तार किया है। इनके नाम दिगंता बासुमातारी और नबज्योति डेका है। बाकी आरोपियों की धरपकड़ के लिए छापेमारी जारी है।

गुहावाटी के एसएसपी एजे बरुआ ने बताया कि इस मामले में अब तक छह आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। वहीं दिसपुर थाने में तैनात एक एसआई को निलंबित भी किया गया है। हालांकि मामले का अहम आरोपी अमरज्योति कलिता अभी भी पुलिस की गिरफ्त से दूर है। गौरतलब है कि मुख्यमंत्री ने इस मामले में सभी आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस को 48 घंटों का समय दिया है।

पुलिस अधिकारी ने बताया अखिल द्वारा सौंपी गई फुटेज को भी देखी जा रही है। अगर इस बात के सबूत मिले कि उस पत्रकार ने ही लोगों को किशोरी के साथ अभद्रता करने के लिए उकसाया था, तो हम उसके खिलाफ भी कार्रवाई करेगे। वहीं इस मामले की जांच करने गुवाहाटी पहुंची महिला आयोग की दो सदस्यीय टीम रविवार को मुख्यमंत्री तरुण गोगोई से मुलाकात करेगी।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस