मुंबई, एजेंसियां: आजादी की 75वीं वर्षगांठ के मौके पर महाराष्ट्र सरकार ने राज्य के सभी लोगों से राष्ट्रगान गाने की अपील की है। सरकार के पर्यटन एवं सांस्कृतिक कार्य मंत्रालय के ओर से जारी आदेश में कहा गया है कि स्वतंत्रता के अमृतमहोत्सव के अंतर्गत बुधवार, 17 अगस्त को स्वराज्य महोत्सव मनाने का फैसला किया गया है। इसके तहत पूरे राज्य में बुधवार को सुबह ठीक 11 बजे सभी सरकारी कार्यालयों और सरकारी-गैरसरकारी स्कूल-कॉलेजों में एक साथ राष्ट्रगान 'जन-गण-मन' का गायन किया जाएगा। यह आदेश विभाग के सचिव सौरभ विजय की ओर से जारी किया गया है।

साथ ही आदेश में कहा गया है कि राष्ट्रगान का गायन 11 बजे से 11बजकर 01मिनट बीच पूरा हो जाना चाहिए। वहीं, पिछले सप्ताह जारी एक सरकारी आदेश में कहा गया था कि राज्य सरकार के सभी विभागों, विश्वविद्यालयों और कॉलेजों के लिए भागीदारी अनिवार्य है। साथ ही राज्य के लोगों से भी गायन में शामिल होने के लिए कहा गया है। आदेश में कहा गया है कि यह प्रक्रिया केंद्र सरकार के स्वराज महोत्सव का हिस्सा है।

महाराष्ट्र सरकार के आदेश के बारे में अधिक जानकारी देते हुए बताया गया है कि निजी प्रतिष्ठानों और व्यापारियों के साथ केंद्र सरकार के अंतर्गत आने वाले अन्य सरकारी विभागों को भी इसमें भाग लेने के लिए कहा गया है। साथ ही छात्रों को निर्देश दिए गए हैं कि वे राष्ट्रगान गाने के लिए खुले मैदान में इकट्ठा हों। आपको बता दें, आजादी के 75 वर्ष पूरे होने के मौके पर केंद्र सरकार ने कई खास आयोजन किए। इसमें हर घर तिरंगा भी एक सफल अभियान रहा है। इस अभियान के तहत सरकार ने देश के करीब 20 करोड़ घरों पर 13 से 15 अगस्त के बीच तिरंगा फहराने की अपील की थी। देश के आम लोगों समेत राजनेताओं और अभिनेतओं ने बढ़-चढ़कर इस अभियान में हिस्सा लिया। 

Edited By: Amit Singh