गोरखपुर [जागरण संवाददाता]। गोरक्षनाथ मंदिर के बड़े महंत अवेद्यनाथ गोलोकवासी हो गए। काफी समय से बीमार 97 वर्षीय महंत एक माह से गुड़गांव के मेदांता अस्पताल में भर्ती थे। शुक्रवार शाम हालत बिगड़ने पर उन्हें विशेष विमान से गोरखपुर लाया गया, जहां उन्होंने शरीर छोड़ा। हालत बिगड़ने की सूचना पर उनके उंत्तराधिकारी और भाजपा सांसद योगी आदित्यनाथ भी गुड़गांव पहुंच गए थे और वही उन्हें लेकर गोरखपुर आए।

एयर एंबुलेंस की गोरखपुर हवाई अड्डे पर 5.45 बजे उसकी लैंडिंग हुई। यहां पहले से ही गोरक्षनाथ चिकित्सालय की एंबुलेंस चिकित्सकों की टीम के साथ तैयार थी। उन्हें अविलंब एंबुलेंस में शिफ्ट किया गया। उन्हें गोरखपुर लाए जाने की खबर सुनकर बड़ी संख्या में शुभचिंतक हवाई अड्डे पर पहुंचे थे।

गोरक्षनाथ अस्पताल के गहन चिकित्सा कक्ष में उन्होंने अंतिम सांस ली। मालूम हो कि गोरखपुर में सेहत बिगड़ने पर 13 जुलाई को महंत अवेद्यनाथ को मेदांता अस्पताल ले जाया गया था। महंत जी अपने पीछे सिद्ध पीठ की दीर्घ परंपरा और देश-विदेश तक फैले भक्तों की बहुत बड़ी संख्या छोड़ गए हैं। उनके निधन का समाचार फैलते ही शोक व्याप्त हो गया और बड़ी संख्या में लोग मंदिर पहुंचने लगे।