भोपाल, प्रेट्र। मध्य प्रदेश सरकार (Madhya Pradesh government) अब महामारी कोविड-19 की तीसरी लहर से जूझने की तैयारी कर रही है। इसके लिए पूरे राज्य में बच्चों के लिए 360 आइसीयू बेड के इंतजाम की तैयारी चल रही है। इस बात की जानकारी मंत्री विश्वास कैलाश सारंग (Vishwas Kailash Sarang) ने सोमवार को दी। हाल में ही स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने देश में कोरोना वायरस संक्रमण की तीसरी लहर को लेकर चेतावनी दी जो बच्चों को भी प्रभावित कर सकता है। 

रविवार को राज्य के मेडिकल एजुकेशन मंत्री कैलाश सारंग ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए विभिन्न सरकारी मेडिकल कॉलेजों के सुपरिटेंडेंट व अन्य वरिष्ठ अधिकारियों से बातचीत की और तीसरी लहर के लिए की जा रही तैयारियों की समीक्षा की। मंत्री ने अधिकारियों से तुरंत आवश्यक उपकरणों की खरीद के निर्देश दिए। इसके लिए मेडिकल कॉलेजों को जल्द ही फंड दे दिए जाएंगे।

सारंग ने बताया, 'कोविड-19 महामारी की संभावित तीसरी लहर से निपटने के लिए हम तैयारी कर रहे हैं क्योंकि यह बच्चों को प्रभावित कर सकता है। राज्य के विभिन्न मेडिकल कॉलेजों में हम 360 बेड का इंतजाम करेंगे।' उन्होंने अधिकारियों को दवाओं, इंजेक्शन व अन्य जरूरी चीजों का पर्याप्त स्टॉक रखने को लेकर भी निर्देश दिए हैं। उन्होंने मध्य प्रदेश के 13 सरकारी मेडिकल कॉलेजों में 1000 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर उपलब्ध कराने की भी बात कही है। मीटिंग के दौरान यह निर्णय लिया गया कि  1,267 बेड का इंतजाम किया जाएगा जिसमें 767 ICU/HDU (high dependency units) बेड होंगे। रविवार को राज्य में 11,051 नए मामले सामने आए और 86 संक्रमितों की मौत हो गई। इसके बाद राज्य में अब तक कुल संक्रमितों का आंकड़ा 6,71,763 हो गया और कुल मरने वालों की संख्या 6,420 है। 

सोमवार सुबह केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की  ओर से दी गई जानकारी के अनुसार, पिछले 24 घंटों में देश भर में आने वाले संक्रमण के मामलों का आंकड़ा 3,66,161 है और मरने वालों का आंकड़ा 3,754 है। इसके साथ ही देश में अब तक संक्रमितों का कुल आंकड़ा  2,26,62,575 हो गया।

Edited By: Monika Minal