रायपुर, स्टेट ब्यूरो। लॉकडाउन की वजह से लोग अपने मृत परिजनों की अस्थियों का विसर्जन नहीं कर पाए हैं। ऐसे लोगों के लिए कांग्रेस ने विशेष बसों की व्यवस्था की है। बसें राजनांदगांव जिले से चल कर दुर्ग, रायपुर और बिलासपुर होते हुए प्रयागराज के लिए रवाना हुईं।

छत्तीसगढ़ के 16 जिलों के 26 विकास खंड रेड जोन में आए

छत्तीसगढ़ में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है। राज्य के 16 जिलों के 26 विकास खंड को रेड जोन में रखा गया है। 38 विकास खंड को आरेंज जोन में शामिल किया गया है। वहीं एक सप्ताह में कंटेनमेंट जोन की संख्या 99 से बढ़कर 126 हो गई है।

कोरोना के चलते रिश्तेदार नाराज भी नहीं होंगे, शादी का खर्च भी बचेगा

कोरोना काल में भीड़-भाड़ सीमित करने के लिए शादी के आयोजन में अधिकतम 50 लोगों की मौजूदगी की इजाजत है। इसके बावजूद कलेक्टरों के कार्यालय में शादी की अनुमति के लिए भीड़ उमड़ रही है। एक ट्रेंड ये भी देखने को मिल रहा है कि लोग फिजूलखर्ची टालने के लिए इसी दौर में शादी कर लेना चाहते हैं। इससे टेंट, घोड़ा, गाड़ी, बारात, कैटरिंग आदि का भारी भरकम खर्च भी बच जाएगा। रिश्तेदार शिकायत भी नहीं कर पाएंगे कि कंजूसी की गई है।

त्रिपुरा से छत्तीसगढ़ियों को लाने को सरकार ने भेजी बस

छत्तीसगढ़ से त्रिपुरा की दूरी करीब 2300 किलो मीटर है, लेकिन वहां से परिवहन की सीधी सुविधा नहीं है। ऐसे में वहां फंसे छत्तीसगढ़ियों को लाने के लिए राज्य सरकार ने बसें भेजी है। राज्य में अब तक करीब ढ़ाई लाख लोगों की वापसी हो चुकी है। इनमें से 76 हजार विशेष ट्रेनों से आए हैं, बाकी बस व अन्य माध्यम से आए हैं। इनमें से 20 हजार से अधिक लोगों ने 14 दिन का क्वारंटाइन का समय पूरा भी कर लिया है, बाकी अभी सेंटरों में हैं।

समर्थन मूल्य पर सियासत गरम, केंद्र को घेरेगी कांग्रेस

केंद्र सरकार की ओर से फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य की घोषणा कर दी गई है। कांग्रेस ने एमएसपी को कम बताते हुए केंद्र सरकार को घेरा है। छत्तीसगढ़ के कृषि मंत्री रविंद्र चौबे ने कहा कि किसानों की आय दोगुना करने का वादा करने वाली केंद्र सरकार कुछ पैसे बढ़ाकर धोखा कर रही है। कांग्रेस इसका विरोध करेगी और किसानों को बताएगी कि केंद्र सरकार सिर्फ जुमलों से उनकी आय दोगुना करना चाहती है।

मुठभेड़ में आठ लाख का इनामी नक्सली ढेर

छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में बीजापुर जिले की सीमा पर हुर्रेपाल और बेचापाल की पहाड़ी के बीच जंगल में सुरक्षा बलों ने आठ लाख के इनामी दशरू पूनम को मार गिराया। दशरू नक्सली कंपनी नंबर-2 का सदस्य था।

ईसाई रीति से दफनाए गए थे पूर्व सीएम जोगी, निकाली गई कलश यात्रा

 पूर्व मुख्यमंत्री स्व.अजीत जोगी का अंतिम संस्कार उनके पैतृक जांव जोगीसार में ईसाई रीति रिवाज से किया गया था लेकिन उनके परिवारीजनों कलश यात्रा निकाली। बताया जा रहा है कि कलश में कब्र की मिट्टी रखी गई है। कलश यात्रा में जोगी की पत्नी व जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ की विधायक डॉ.रेणु जोगी, पुत्र अमित जोगी,लोरमी सीट से विधायक धर्मजीत सिंह आदि शामिल हैं। इसके राजनीतिक निहितार्थ भी बताए जा रहे हैं। बता दें कि जोगी के आदिवासी होने के प्रमाण पत्र को रद किया जा चुका है, जिसको जोगी ने कोर्ट में चुनौती दी थी। इस बीच उनका निधन हो गया।

बूंद बूंद पानी को तरस रहे पंडो जनजाति

 राष्ट्रपति के दत्तक पुत्र कहे जाने वाले रावा के संरक्षित पंडो आदिवासी बूंद-बूंद पानी के लिए मोहताज हैं। जनप्रतिनिधियों व प्रशासन से गुहार लगाने के बाद भी पेयजल समस्या दूर नहीं हुई तो अब खुद कुदाली, फावड़ा उठाकर कुआं खोदने में लगे हैं। केरल की संस्था एकता परिषद श्रमदान में लगे ग्रामीणों को भोजन व आर्थिक मदद कर रही है।

कोरोना मीटर छत्तीसगढ़

नए केस-        शून्य

एक्टिव केस-   427

कुल केस -     549

स्वस्थ हुए-     121

मौत-              02

Posted By: Bhupendra Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस