भोपाल, एएनआइ। मध्य प्रदेश के किसानों को फसल काटने के लिए मजदूर नहीं मिल पा रहे हैं जिस वजह से उन्हें काफी नुकसान हो रहा है। यहां एक किसान कलीबंधु ने बताया कि हमारे पास फसल की कटाई के लिए कोई मजदूर नहीं मिल रहा है और कटाई के लिए जो मशीनें उपयोग की जाती हैं वो काफी महंगी हैं और उसके लिए हम समर्थ नहीं हैं। उनका कहना है कि अगर ऐसे ही चलता रहा तो हम कमाई कैसे करेंगे।

किसानों की समस्या हल करेगी केंद्र सरकार

बुधवार को केंद्रीय मंत्री नरेंद्र तोमर ने अधिकारियों को साथ मीटिंग करके खेती की गतिविधियों की सुविधा के लिए उठाए जा रहे कदमों की समीक्षा की। इसके अलावा देश के किसानों की समस्याएं हल करने के लिए कंट्रोल रूम भी बनाया गया है। इसमें कृषि संबंधी कार्यों और उसमें होने वाली परेशानियों की निगरानी और समाधान किया जाएगा।

केंद्रीय मंत्री नरेंद्र तोमर ने कहा कि किसान अपने खेतों के पास उपज बेच सकें, इसके लिए प्रयास किए जाने चाहिए। इसके अलावा यह भी सुनिश्चित करें कि अन्य राज्यों और राज्य के भीतर कृषि उपज बिना बाधा के पहुंचाई जाए। बता दें कि लॉकडाउन के दौरान कृषि उपज ले जाने वाले ट्रकों की आवाजाही के लिए छूट दी गई थी।

बता दें कि देशभर में 23 मार्च से 21 दिनों के लिए लॉकडाउन लागू कर दिया गया है। केंद्र सरकार ने कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए यह कदम उठाया है। इसके तहत लोगों को इधर-उधर आने जाने की इजाजत नहीं है और घरों से बाहर भी सिर्फ जरूरी कामों के लिए ही निकल सकते हैं। उधर ओडिशा सरकार ने राज्य में 30 अप्रैल तक लॉकडाउन लागू कर दिया है। इसके साथ ही उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने हॉटस्पॉट इलाकों को सील करने का फैसला लिया है। यह इलाके बुधवार रात 12 बजे से 15 अप्रैल सुबह तक सील रहेंगे।

Posted By: Neel Rajput

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस