नई दिल्ली [जागरण स्पेशल]। माइक्रोसॉफ्ट के सह संस्थापक बिल गेट्स ने कहा है कि समय रहते एंड्रॉइड जैसा ऑपरेटिंग सिस्टम न तैयार कर पाना और गूगल के लिए बाजार खुला छोड़ देना उनके जीवन की सबसे बड़ी भूल रही। अपनी सबसे बड़ी गलती को लेकर बिल गेट्स की यह स्वीकारोक्ति कुछ और दिग्गजों की याद दिलाती है जिन्होंने अपने कुछ अहम फैसलों को बाद में अनुभव के आधार पर गलत पाया था और सार्वजनिक मंचों पर इसे स्वीकार भी किया था। पेश है एक नजर...

सबसे सस्ती कार के तौर पर नैनो की ब्रांडिंग बड़ी भूलरतन टाटा
टाटा ट्रस्ट के चेयरमैन रतन टाटा ने नैनो की ब्रांडिंग स्ट्रैटजी को बड़ी भूल कराया दिया था। उन्होंने कहा कि नैनो को सबसे सस्ती कार के तौर पर प्रोजेक्ट करना हमारी भूल रही। दरअसल नैनो की ब्रांडिंग ‘चीपेस्ट’ की बजाय ‘मोस्ट अफोर्डेबल’ कार के तौर पर की जानी चाहिए थी। नैनो लखटकिया कार के तौर पर देश में खूब प्रचारित हुई थी, लेकिन उसे वह सफलता नहीं मिली, जिसकी उम्मीद थी।

 

सरकार में शामिल न होना ऐतिहासिक भूल थी- ज्योति बसु
वाजपेयी सरकार गिरने के बाद माकपा नेता और पश्चिम बंगाल के पूर्व मुख्यमंत्री ज्योति बसु को प्रधानमंत्री बनने का ऑफर दिया गया था, जिसे उनकी पार्टी ने ठुकरा दिया था। ज्योति बसु ने इसे ऐतिहासिक भूल बताया था। उनका तर्क था कि वे वामपंथी विचारधारा से आते हैं। अगर एक साल भी सरकार चलाने का मौका मिल जाता तो वामपंथ को लेकर देश की जनता का भ्रम टूट जाता और पिछड़ों के बारे में भी सोचना शुरू हो जाता।

चैपल को कोच बनाने की सिफारिश पर पछतावा- सौरव गांगुली
भारतीय क्रिकेट टीम के सफलतम कप्तानों में से एक सौरव गांगुली ग्रेग चैपल को भारतीय टीम का कोच चुने जानने में अपनी सहमति दिए जाने को अपने करियर की सबसे बड़ी भूल मानते हैं। उनका कहना है कि आस्ट्रेलिया में उन्हें कभी बैटिंग का टिप्स देने वाले चैपल कोच बनने के बाद ऐसे हो जाएंगे, उन्होंने सपने में भी नहीं सोचा था। 2007 के बाद तो उनसे बात तक नहीं हुई।

फिल्मों से दूर होना बड़ी गलती थी - अमिताभ बच्चन
सदी के महानायक अमिताभ बच्चन का कहना है कि उन्होंने पांच दशक से ज्यादा लंबा समय बॉलीवुड जगत में बिताया है, लेकिन पिछली सदी के आखिरी दशक में खुद को सिनेमा जगत से अलग कर लेना जिंदगी की उनकी सबसे बड़ी गलती थी। शुक्र है, इसका आभास हो गया और मैंने इसे जल्द ही सुधार लिया।

रेहम से निकाह सबसे गलत फैसला था- इमरान खान
पाकिस्तानी पीएम इमरान खान ने रेहम खान से निकाह को अपना सबसे गलत फैसला ठहराया है। रेहम से तलाक पर कहा कि मैं उन दिनों को याद कर कोसता हूं, जब मैंने रेहम को जीवनसाथी चुना था। बता दें कि जनवरी, 2015 में दोनों का निकाह हुआ और 10 महीने के अंदर ही दोनों अलग भी हो गए थे। तलाक के बाद से रेहम लगातार इमरान खान पर हमलावर रहीं।

सेशंस को अटार्नी जनरल बनाना गलत था-डोनाल्ड ट्रंप
अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की नजर में राष्ट्रपति रहते हुए उन्होंने अटार्नी जनरल के पद पर जेफ सेशंस की जो नियुक्ति की थी, वह उनकी सबसे बड़ी भूल थी। जेफ सेशंस कभी ट्रंप के खास होते थे लेकिन राष्ट्रपति चुनाव में रूस की भूमिका की जांच से जब खुद को अलग किया तो वे ट्रंप की नजरों में खटकने लगे थे।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Sanjay Pokhriyal

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप