श्रीनगर। उत्तरी कश्मीर के शालबटु (कुपवाड़ा) में शनिवार तड़के नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर घुसपैठ के एक प्रयास को नाकाम बनाते हुए सेना का एक जवान शहीद हो गया। फिलहाल घुसपैठियों के खिलाफ पूरे इलाके में सैन्य अभियान जारी है। घुसपैठ का यह प्रयास जम्मू कश्मीर में केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह के आगमन से करीब आठ घंटे पहले हुआ।

जानकारी के अनुसार स्वचालित हथियारों से लैस तीन से चार आतंकी शुक्रवार आधी रात के बाद कुपवाड़ा जिले में शालबटु इलाके में दाखिल होने का प्रयास कर रहे थे। वहां गश्त कर रहे सेना की गोरखा रेजीमेंट के जवानों ने उन्हें देख लिया। जवानों ने उन्हें ललकारते हुए आत्मसमर्पण करने को कहा। घुसपैठियों ने सेना पर गोली चलाई। जवानों ने भी जवाबी फायर किया। इस दौरान गोली लगने से एक जवान गंभीर रूप से घायल हो गया।

उसे अन्य जवानों ने वहां से हटाते हुए जवाबी फायर किया। करीब दो घंटे तक गोलीबारी के बाद जब जवानों ने मुठभेड़स्थल की तलाशी ली तो वहां घुसपैठिये नहीं मिले। हालांकि एलओसी की तरफ जाते कुछ खून के धब्बे मिले।

संबंधित अधिकारियों ने दावा किया है कि घुसपैठिए वापस भाग गए हैं, उनमें से कुछ घायल भी हो सकते हैं। ऐहतियात के तौर पर पूरे इलाके में घेराबंदी कर सघन तलाशी अभियान चलाया जा रहा है। इस बीच घायल जवान को उपचार के लिए निकटवर्ती सैन्य अस्पताल पहुंचाया गया, जहां कुछ देर बाद उसने दम तोड़ दिया।

Posted By: Rajesh Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस