कोलकाता, जागरण संवाददाता। अरबों रुपये के सारधा चिटफंड घोटाले में जेल में बंद तृणमूल कांग्रेस के निलंबित राज्यसभा सदस्य कुणाल घोष ने फिर आमरण अनशन शुरू कर दिया है। कुणाल को आज सत्र न्यायालय में मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी रूद्र प्रसाद राय की अदालत में पेश किया गया, जहां उनकी जमानत याचिका फिर से खारिज कर दी गई।

कुणाल ने मंगलवार से शुरू होने वाले संसद के मानसून सत्र में शामिल होने के लिए 20 घंटे के लिए जमानत मांगी थी। कुणाल ने 21 जुलाई को होने वाली शहीद दिवस रैली से पहले मुख्यमंत्री व तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ममता बनर्जी पर निशाना साधते हुए सारधा कांड में उनके खिलाफ कार्रवाई की मांग की। उन्होंने सीबीआइ के जांच अधिकारियों से कहा कि 21 जुलाई के मंच पर वे सारधा के तमाम सुविधाभोगियों को देख पाएंगे।

Posted By: Rajesh Niranjan

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप