नई दिल्ली, एजेंसी। 72वें गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर  सोमवार शाम 7 बजे राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (President Ram Nath Kovind) राष्ट्र को संबोधित करेंगे। इसका प्रसारण दूरदर्शन के सभी चैनलों व ऑल इंडिया रेडियो पर हिंदी व अंग्रेजी दोनों भाषाओं में किया जाएगा। साथ ही दूरदर्शन के क्षेत्रीय चैनलों पर क्षेत्रीय भाषाओं में भी इसका प्रसारण होगा। वहीं ऑल इंडिया रेडियो के क्षेत्रीय चैनलों पर क्षेत्रीय भाषाओं में रात 9.30 बजे राष्ट्रपति के संबोधन को टेलीकास्ट किया जाएगा। इस बार का गणतंत्र दिवस समारोह कोरोना वायरस महामारी के कारण अलग तरह से आयोजित किया जा रहा है। 

पिछले संबोधन में कही थी ये बात

इससे पहले 71वें गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर राष्ट्रपति ने  संवैधानिक आदर्शों और महात्मा गांधी की शिक्षाओं के  साथ देश की सेना की भी प्रशंसा की। उन्होंने गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स (GST) के प्रति अपना समर्थन भी दिया और कहा, 'सरकार की प्रत्येक नीति राष्ट्र-प्रथम के तहत आती हैं। GST के आने के साथ, एक देश, एक कर, एक बाजार’ के हमारे दृष्टिकोण को हमने महसूस किया है।'

सेना के लिए उन्होंने कहा, 'देश की सेनाओं, अर्धसैनिक बलों और आंतरिक सुरक्षा बलों की मैं मुक्त-कंठ से प्रशंसा करता हूं। देश की एकता, अखंडता और सुरक्षा को बनाए रखने में उनका बलिदान, अद्वितीय साहस और अनुशासन की अमर गाथाएं पेश करता है।' उन्होंने किसानों, शिक्षकों व डॉक्टरों के योगदान का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा, ' हमारे किसान, हमारे डॉक्टर और नर्स, विद्या और संस्कार देने वाले शिक्षक, कर्मठ वैज्ञानिक और इंजीनियर, सचेत और सक्रिय युवा, हमारे कल–कारखानों को अपने परिश्रम से चलाने वाले श्रमिक बंधु, औद्योगिक विकास में योगदान देने वाले उद्यमी, हमारी संस्कृति और कला को निखारने वाले कलाकार, भारत के सर्विस सैक्टर को विश्व भर में सम्मानित स्थान दिलाने वाले सभी प्रोफेशनल्स तथा अन्य अनेक क्षेत्रों में अपना योगदान देने वाले हमारे सभी देशवासी और खासकर, हर तरह की बाधाओं के बावजूद सफलता के नए मानदंड स्थापित करने वाली हमारी होनहार बेटियाँ, ये सभी हमारे देश का गौरव हैं।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप