नई दिल्ली, एजेंसियां। देश में कोरोना वायरस से मौजूदा हालात फिलहाल ठीक नहीं हैं। कोरोना के हर मामले में भारत अब दुनिया के सभी देशों को पीछे छोड़ रहा है। कोरोना वायरस संक्रमण, संक्रमण की दर और कोरोना के कारण होने वाली मौतों में अब तक अमेरिका और ब्राजील आगे थे लेकिन अब भारत ने इन दोनों देशों को पीछे छोड़ दिया है। पिछले 10 दिनों में भारत में कोरोना के कारण सबसे ज्यादा मौतें हुई हैं। पिछले 10 दिनों में देश में कोविड-19 के कारण 36,110 लोगों की जानें गई हैं। देश में कोरोना संक्रमण के चलते पहली बार एक दिन में चार हजार से अधिक लोगों की मौत हुई है  ये देश में कोरोना के मौजूदा हालात को बताने के लिए काफी है। आइए जानते हैं देश में कोरोना के हालात, संक्रमण की दर फिलहाल कैसी है...

आज फिर आए चार लाख से अधिक मामले

देश में एक बार फिर से कोरोना के 4 लाख से अधिक मामले सामने आए हैं। देश में बीते 24 घंटों में कोरोना संक्रमण के 4,01,078 नए मामले सामने आए हैं।  बीते 24 घंटे में 4,187 लोगों की कोरोना के चलते मौत हुई है। लगातार दूसरे दिन एक दिन में चार हजार से ज्यादा लोगों की मौत हुई है। इस दौरान 3,18,609 मरीज ठीक भी हुए हैं। कुल संक्रमितों का आंक़़डा दो करोड़ 18 लाख 92 हजार को पार कर गया है। इनमें से एक करोड़ 79 लाख से ज्यादा मरीज ठीक हो चुके हैं और 2,38,270 लोगों की जान भी जा चुकी है।

24 राज्यों में संक्रमण की दर 15 फीसद से अधिक

देश में कोरोना महामारी की दूसरी लहर का कहर जारी है। देश भर के 24 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में संक्रमण की दर 15 फीसद से अधिक है। इनमें सबसे ज्यादा गोवा में संक्रमण दर 48.5 फीसद है यानी वहां जितने लोगों की जांच की जा रही है, उनमें से करीब हर दूसरा व्यक्ति संक्रमित पाया जा रहा है। सरकार ने कहा है कि गोवा के साथ ही महाराष्ट्र, कर्नाटक, हरियाणा और बंगाल समेत 24 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में कोरोना संक्रमण की दर 15 फीसद से अधिक है, जबकि नौ राज्यों में पांच से 15 फीसद संक्रमण दर है। तीन राज्यों में संक्रमण की दर पांच फीसद से कम है।

12 राज्यों में सबसे अधिक एक्टिव केस

12 राज्यों में एक लाख से ज्यादा सक्रिय मामले हैं। जबकि, सात राज्यों में 50 हजार से एक लाख के बीच सक्रिय मामले हैं। वैसे पूरे देश की बात करें तो सक्रिय मामलों का आंकड़ा 37 लाख को पार कर गया है।

देश में कैसे बढ़ रही संक्रमण दर?

देश में कोरोना वायरस का संक्रमण धीरे-धीर मार्च के मध्य में बढ़ना शुरू हुआ और बाद में इसमें काफ़ी तेज़ी आती चली गई, 30 अप्रैल आते-आते इसने रिकॉर्ड बना दिया और देश में अब एक दिन में 4 लाख से अधिक मामले सामने आ रहे हैं। हालांकि, इस बीच सरकार का दावा है कि देश के कई इलाकों में कोरोना महामारी का असर धीमा पड़ा है और वहां संक्रमण के मामले कम हो रहे हैं।

दिल्ली-यूपी और महाराष्ट्र में घट रहे केस !

कोरोना की दूसरी लहर का सबसे अधिक सामना करने वाले महाराष्ट्र, दिल्ली और यूपी को लेकर कल एक राहत भरी खबर आई है। पिछले कुछ दिनों की तुलना में बीते 24 घंटे के दौरान महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश और दिल्ली में नए मामलों में कुछ कमी आई है। महाराष्ट्र में 54 हजार, उत्तर प्रदेश में 27 और दिल्ली में 19 हजार से ज्यादा नए मामले मिले हैं। इससे पहले महाराष्ट्र में 62 हजार, उत्तर प्रदेश में 31 हजार और दिल्ली में 20 हजार से ज्यादा नए केस पाए गए थे।

15 मई के बाद दूसरी लहर से राहत की उम्मीद !

देश में इन दिनों कोरोना की दूसरी लहर के पीक पर पहुंचने को लेकर चर्चा रही। देश की जानी मानी वायरोलॉजिस्ट और चिकित्सा विज्ञानी गगनदीप कांग के मुताबिक इस महीने के मध्य से लेकर आखिर तक संक्रमण के मामलों में गिरावट आनी शुरू हो जाएगी। गगनदीप कांग के मुताबिक अभी कोरोना संक्रमण की एक या दो लहर और आ सकती है यानी नए मामलों में वृद्धि हो सकती है, लेकिन हालात मौजूदा दौर की तरह खराब नहीं  होंगे। इससे पहले भी आइआइटी के कई वैज्ञानिकों और देश के कई वैज्ञानिकों ने 15 मई के बाद देश में कोरोना की दूसरी लहर के धीमे होने की बात कही है। वैज्ञानिकों के मुताबिक, 30 मई के आसपास देश में कोरोना के मामलों में नाटकीय कमी आ सकती है।

..तो रोकी जा सकती है तीसरी लहर

देश के कई विज्ञानी और चिकित्सा विशेषज्ञ कोरोना की तीसरी लहर आने की भी चेतावनी दे रहे हैं। इसको लेकर देश के मुख्य वैज्ञानिक सलाहकार के विजय राघवन ने कहा है कि अगर अभी हम महामारी से मजबूती से लड़ें तो तीसरी लहर को आने से रोक सकते हैं। इसके लिए जरूरी है कि कड़े उठाए जाएं और राज्यों से लेकर जिले व शहर के स्तर तक उनका सख्ती से पालन हो।

शुक्रवार को देशभर में 18.26 लाख कोरोना टेस्ट

भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषषद ([आइसीएमआर)] के मुताबिक कोरोना संक्रमण का पता लगाने के लिए गुरवार को देश भर में 18,08,344 नमूनों की जांच की गई। इनको मिलाकर अब तक कुल 30 करोड़ 4 लाख से ज्यादा नमूनों का परीक्षण किया जा चुका है।

साढ़े 16  करोड़ से अधिक टीकाकरण

इस बीच देश में कोरोना वायरस के खिलाफ टीकाकरण जारी है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के अनुसार, देश में अब तक 16 करोड़ 73 लाख 46 हजार 544 लोगों को टीका लगाया चुका है। इसमें से 22,97,257 टीकाकरण बीते एक दिन में किया गया है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप