हैदराबाद। उद्योग जगत की जानी-मानी हस्ती किरण मजूमदार-शॉ ने कहा है कि मुसीबत में फंसे विजय माल्या को बैंकों के साथ लोन सेटलमेंट का अवसर दिया जाना चाहिए। इस मुद्दे पर चल रही मीडिया ट्रायल को गैरजरूरी बताते हुए उन्होंने कहा कि इससे कोई फायदा नहीं होने वाला है।

सोमवार को एक विशेष भेंट में बायोकॉन लि. की अध्यक्ष ने कहा कि दिवालिया कानून के अभाव में देश में ऋण और वित्तीय विवादों को सुलझाने में लंबा समय लगता है।

माल्या खुद भी कह चुके हैं कि वे बैंकों के साथ कर्ज संबंधी मामलों का सेटलमेंट करना चाहते हैं। इसके लिए उनको मौका दिया जाना चाहिए। शॉ को उम्मीद है कि माल्या भारत जरूर लौटेंगे।

उन्होंने याद दिलाया कि कर्ज वसूली न्यायाधिकरण के पास माल्या का मामला लंबे समय से लंबित है। उन्होंने कहा कि सेटलमेंट का काम रातोरात नहीं हो जाता है।

Posted By: Abhishek Pratap Singh