नई दिल्ली, एजेंसियां। केरल सोना तस्करी मामले में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआइए) ने दो और आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया। केंद्रीय एजेंसी इस मामले में अब तक 12 आरोपितों को गिरफ्तार कर चुकी है। उधर, कोच्चि स्थित एनआइए की विशेष अदालत ने आरोपित केटी रमीस की हिरासत अवधि सात अगस्त तक बढ़ा दी है।                                                                       

एनआइए प्रवक्ता ने बताया कि केरल के मलप्पुरम निवासी शर्राफुदीन (38) व पलक्कड़ जिला निवासी शफीक (31) को सोमवार को गिरफ्तार किया गया था। दोनों पर तिरुअनंतपुरम स्थित संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) महावाणिज्य दूतावास के एक राजनयिक के नाम पर सोना तस्करी के मामले में षड्यंत्र रचने व तस्करी के सोने को दूसरे षड्यंत्रकारियों तक पहुंचाने का आरोप है। रमीस ने पूछताछ के दौरान शर्राफुदीन व शफीक के इस षड्यंत्र में शामिल होने की बात बताई थी। उसने बताया था कि वह संदीप नैयर से तस्करी का सोना उठाने में दोनों की मदद करता था। शर्राफुदीन व शफीक को एर्नाकुलम स्थित एनआइए की विशेष अदालत के समक्ष पेश किया गया, जिसने दोनों को चार दिनों के लिए एजेंसी की रिमांड में भेज दिया।

गौरतलब है कि सीमा शुल्क विभाग ने तिरुअनंतपुरम हवाईअड्डे पर पांच जुलाई को करीब 15 करोड़ रुपये के 30 किलोग्राम सोने की तस्करी का पर्दाफाश किया था। मामले के मुख्य आरोपित पीएस सारिथ, स्वप्ना सुरेश व संदीप नैयर की गिरफ्तारी पहले ही हो चुकी है। तस्करी में स्वप्ना का नाम आने और उससे संबंध जाहिर होने पर मुख्यमंत्री पिनराई विजयन के पूर्व प्रधान सचिव व आइटी विभाग के तत्कालीन सचिव एम. शिवशंकर को निलंबित किया जा चुका है।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021