बेंगलुरू, आईएएनएस। कर्नाटक के बेंगलुरू में केरल की युवती के साथ गैंगरेप होने से आइटी हब को शर्मसार होना पड़ा। इस वारदात को एक ऐप आधारित बाइक सर्विस के चालक ने अपने साथियों के साथ मिलकर अंजाम दिया। जांच में खुलासा हुआ कि सामूहिक दुष्कर्म मामले के आरोपियों ने पुलिस को खुद को अच्छा इंसान बताया। उन्होंने कहा कि उन्होंने 22 वर्षीय पीड़िता को बेहोशी की हालत में अपने कमरे में शरण दी थी। बेंगलुरू पुलिस ने मंगलवार को यह जानकारी दी। ऐसे में अब बेंगलुरू जैसे शहर में ऐप आधारित बाइक सर्विस पर सवाल खड़े हो गए हैं। क्या यह सर्विस महिलाओं के लिए सुरक्षित नहीं है?

पुलिस ने मामले में तीन लोगों को किया गिरफ्तार

बेंगलुरु में केरल की रहने वाली युवती से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में कर्नाटक पुलिस ने आरोपी की प्रेमिका समेत तीन दोस्तों को गिरफ्तार किया था। गिरफ्तार किए गए लोगों की पहचान शहाबुद्दीन (26) और अख्तर (24) के रूप में हुई। पुलिस अब तक महिला आरोपी की पहचान नहीं बता पाई है। पुलिस के अनुसार, यह घटना इलेक्ट्रॉनिक्स सिटी थाने की सीमा में हुई और बाद में यह घटना लोगों के सामने आई। वारदात को अंजाम देने के बाद एक आरोपी ने अपनी प्रेमिका को उस कमरे में बुलाया था, जहां बेहोशी की हालत में पीड़िता को आरोपी ले गया था।

बाइक टैक्सी चालक के साथ सवारी करते हुए बेहोश हुई थी पीड़िता

पुलिस ने कहा कि मुख्य आरोपी और उसकी गर्लफ्रेंड ने कहा कि उन्होंने पीड़िता को बचाया था। उन्होंने आगे कहा कि पीड़िता आरोपी बाइक टैक्सी चालक के साथ सवारी करते हुए बेहोश हो गई थी, पीड़िता को उन लोगों ने आश्रय और सुरक्षा दी थी। पीड़िता ने उन पर विश्वास किया और उनके घर चली गई। वहां पहुंचने के बाद उसे बदन दर्द हुआ और वह डाक्टर के पास गई। डॉक्टर ने जांच के बाद बताया कि उसके साथ दुष्कर्म हुआ है। लड़की को एहसास हो गया था कि बाइक टैक्सी ड्राइवर और उसके दोस्त ने उसके साथ गैंगरेप किया है। बाद में उसने बेंगलुरु में इलेक्ट्रॉनिक्स सिटी पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई।

बाइक टैक्सी चालक ने स्थिति का फायदा उठाया

पीड़िता बेंगलुरू में बीटीएम लेआउट की एक कंपनी में फ्रीलांस ग्राफिक डिजाइनर के तौर पर काम करती थी। गुरुवार रात उसने अपने घर पहुंचने के लिए बाइक टैक्सी बुक की थी। पुलिस ने बताया कि जब बाइक टैक्सी चालक मौके पर पहुंचा तो लड़की नशे की हालत में थी। नीलाद्रिनगर की ओर जाते समय वह लगभग बेहोश हो गई। बाइक टैक्सी चालक ने स्थिति का फायदा उठाया और उसे अपने कमरे में ले गया। बाद में आरोपी ने अपने पुरुष मित्र को बुलाया और दोनों ने उसके साथ दुष्कर्म किया।

इसे भी पढ़ें: Hyderabad: 10वीं की छात्रा से पांच सहपाठियों ने किया दुष्कर्म, वीडियो रिकॉर्ड कर कर रहे थे ब्लैकमेल

पुलिस ने कहा कि जब पीड़िता को होश आया, तो आरोपियों ने युवती के साथ नाटक किया कि वह रात के समय गंभीर खतरे में थी। जब वह बेहोश हो गई थी और उन्होंने उसे बचाया और उसे आश्रय दिया। उसके साथ क्या हुआ था, यह जानने के बाद पुलिस में शिकायत दर्ज कराई। पुलिस ने आरोपी की मदद करने वाली प्रेमिका सहित आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। मामले में अभी और ब्योरा सामने आना बाकी है। आगे की जांच जारी है।

इसे भी पढ़ें: भारत में मातृ मृत्युदर पहली बार 100 से नीचे, गर्भवती महिलाओं की जान बचाने की दिशा में अहम उपलब्धि

Edited By: Arun kumar Singh

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट