चलाकुडी, एजेंसी। केरल के त्रिशूर जिले में अलूर पुलिस ने एक व्यक्ति और उसके परिवार पर हमला करने के आरोप में 11 महिलाओं को गिरफ्तार किया है। सभी आरोपियों को 6 जनवरी को कोर्ट में पेश कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। अलूर पुलिस के अनुसार, महिलाओं ने व्यक्ति पर सोशल मीडिया पर एक महिला की मॉर्फ्ड तस्वीरें डालने का आरोप लगाया जिसके बाद उसके साथ यह घटना हुई।

11 महिला आरोपियों पर मामला दर्ज

बता दें कि सभी 11 महिलाओं पर भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 307 के तहत मामला दर्ज किया गया है। पुलिस ने त्रिशूर जिले के मुरियाद के मूल निवासी शाजी की शिकायत पर महिलाओं को गिरफ्तार किया। ये सभी आरोपी त्रिशूर जिले के चलक्कुडी में सम्राट इमैनुएल रिट्रीट सेंटर के सदस्य हैं। बता दें कि शिकायतकर्ता शाजी, उनकी पत्नी एशलिन, बेटे साजन और उनके रिश्तेदारों को कथित तौर पर उनकी कार से खींचकर पीटा गया था।

Punjab Politics: विपक्ष सरारी के त्यागपत्र से असंतुष्ट, केस दर्ज कर गिरफ्तार करने की मांग

सोशल मीडिया पर वायरल हुआ वीडियो

महिलाओं का एक वीडियो सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर भी तेजी से वायरल हो रहा है। इस वीडियो में देखा जा सकता है कि एक आदमी को महिलाएं घसीटते हुए बेरहमी से पीट रही हैं। वीडियो में कुछ महिलाएं उन पर लाठी से हमला करत भी देखा जा सकता है। इस हमले में शाजी के कार का शीशा भी टूट गया था।

पुलिस के अनुसार, जिस वक्त यह घचना हुई उस समय कार में पीड़ित के परिवार के पांच अन्य सदस्य भी मौजूद थे। यह घटना सेंटर परिसर के बाहर हुई थी। घटना में परिवार के सदस्यों को भी मामूली चोटें आईं थी।

महिला की तस्वीर के साथ की थी छेड़छाड़

पुलिस के अनुसार, शिकायतकर्ता ने बताया कि महिलाओं ने गलतफहमी में आकर उस पर हमला किया था। महिलाओं का आरोप है कि शख्स ने रिट्रीट सेंटर से संबंधित एक महिला की तस्वीर से छेड़छाड़ कर बनाई गई तस्वीरों को प्रसारित किया था।

Tamil Nadu: 'देश के विकास के लिए सेतुसमुद्रम परियोजना को फिर से शुरू करने की जरूरत'- CM स्टालिन

Maharashtra: हिंगोली में महसूस किए गए भूकंप के हल्के झटके, किसी के हताहत होने की नहीं मिली जानकारी

Edited By: Nidhi Avinash