नई दिल्‍ली, एजेंसी। Lok Sabha Election 2019 Result चुनावी नतीजों के बाद कर्नाटक कांग्रेस में घमासान मचा है। कर्नाटक कांग्रेस प्रचार समिति (Karnataka Congress Campaign Committee) के अध्‍यक्ष एचके पाटिल (HK Patil) ने पार्टी अध्‍यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) को पत्र लिखकर कहा है कि यह हम सभी के लिए आत्मनिरीक्षण करने का वक्‍त है। मुझे लगता है कि इस हार की जिम्‍मेदारी लेना हमारा नैतिक कर्तव्‍य है, इसलिए मैं पद से अपना इस्तीफा देता हूं। वहीं, कर्नाटक कांग्रेस के नेताओं की बैठकों का दौर भी चल रहा है।

 

इस बीच, कर्नाटक के उप मुख्‍यमंत्री एवं कांग्रेस नेता जी. परमेश्‍वर ने अपने आवास पर पार्टी नेताओं की एक बैठक बुलाई। इसमें पूर्व मुख्‍यमंत्री सिद्धारमैया, कर्नाटक प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्‍यक्ष दिनेश गुंडू राव, एमबी पाटिल एवं अन्‍य नेताओं ने बैठक में हिस्‍सा लिया। बता दें कि हाल ही में केंद्रीय मंत्री डीवी सदानंद गौड़ा ने दावा किया था कि लोकसभा चुनाव परिणाम के बाद कर्नाटक में कांग्रेस-जदएस गठबंधन सरकार गिर जाएगी। इस बारे में पूछे जाने पर राज्‍य के पूर्व मुख्‍यमंत्री सिद्धारमैया ने कहा है कि मौजूदा कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन सरकार को कोई खतरा नहीं है। 

इस चुनाव परिणाम के नतीजों ने यूपी कांग्रेस में भी हलचल बढ़ा दी है। अमेठी जिला कांग्रेस कमेटी के अध्‍यक्ष योगेंद्र मिश्रा ने भी अपने पद से इस्‍तीफा दे दिया है। योगेंद्र ने इस हार की जिम्‍मेदारी खुद पर ली है। बता दें कि अमेठी लोकसभा सीट से भाजपा की स्‍मृति इरानी ने 55,120 मतों के अंतर से हरा दिया है। राहुल को 4,13,394 मत जबकि स्‍मृति ईरानी को 4,68,514 मत मिले। राहुल ने केरल की वायनाड सीट पर 7,06,367 मतों से जीत दर्ज की थी। 

उल्‍लेखनीय है कि इस लोकसभा चुनाव में भाजपा ने 300 से अधिक सीटें हासिल करके एकबार फ‍िर इतिहास रच दिया है। पीएम नरेंद्र मोदी की चुनावी सुनामी विपक्षी किला ध्‍वस्‍त हो गया है। इस 'मोदी सुनामी' का ही नतीजा है कि तीन राज्‍यों को छोड़कर पूरा देश मोदीमय हो गया है। 1971 के बाद यह दूसरा मौका होगा जब किसी प्रधानमंत्री के नेतृत्‍व में उनकी पार्टी केंद्र में लगातार दूसरी बार सरकार बनाएगी। 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Krishna Bihari Singh