मुंबई, एएनआइ। कमला मिल्स कम्‍पाउंड में लगी भयानक आग के मामले में एक और आरोपी पुलिस की गिरफ्त में आ गया है। मोजो बिस्त्रो रेस्तरां के मालिक युग तुली ने पुलिस के सामने सरेंडर कर दिया है। वहीं मोजो पब का एक और मालिक युग पाठक भी पहले ही सरेंडर कर चुका है। गौरतलब है कि पिछले साल 29 दिसंबर को हुए कमला मिल्‍स अग्निकांड में 14 लोगों की मौत हो गई थी।

इस महीने की शुरुआत में होटल कारोबारी विशाल कारिया को भी गिरफ्तार किया गया था। हालांकि भोइवाडा की मजिस्ट्रेट अदालत ने उन्‍हें जमानत दे दी। कारिया के वकील वीरेंद्र खोट ने इस संबंध में कहा कि उन्हें 10,000 रुपए के मुचलके पर जमानत दे दी गई। पुलिस ने कारिया के घर पर वन ऐबव पब के सह मालिक और मामले में मुख्य आरोपी अभिजीत मनकड़ की एक कार पाई जाने के बाद उनके खिलाफ एक अपराधी को पनाह देने के लिए आईपीसी की धारा 216 के तहत मामला दर्ज और गिरफ्तार किया था। पुलिस ने मनकड़ के साथ दो मैनेजरों और एक रिश्‍तेदार को भी गिरफ्तार किया था।

घटना को बताया गया अंतरआत्‍मा को हिला देने वाला

आपको बता दें कि 29 दिसंबर,2017 की रात कमला मिल्स कम्‍पाउंड में स्थित दो रेस्टोरेंट में हुए इस अग्निकांड में 14 लोग मारे गए थे और 30 घायल हुए थे। मुंबई उच्चन्यायालय ने इस संबंध में दायर एक जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुए कहा कि यह घटना अंतरात्मा को हिला देनेवाली है। उच्च न्यायालय का मानना है कि यह दुर्घटना आग से बचने के लिए बनाए गए नियम-कायदों का सही पालन न होने का नतीजा है।

बीएमसी की ओर से कोर्ट में पेश हुए वकील अनिल साखरे ने कहा कि राज्य सरकार ने बीएमसी आयुक्त अजय मेहता से इस दुर्घटना पर रिपोर्ट देने को कहा है। इस सप्ताह के अंत तक यह रिपोर्ट दे दिए जाने की उम्मीद है।

यह भी पढ़ें: सुप्रीम कोर्ट जजों की बैठक में रो पड़े जस्टिस अरुण मिश्रा

Posted By: Pratibha Kumari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस