मुंबई, एएनआइ। पंजाब एंड महाराष्ट्र को-ऑपरेटिव (PMC) बैंक मामले में बैंक के पूर्व प्रबंध निदेशक जॉय थॉमस और पूर्व निदेशक एस सुरजीत सिंह अरोड़ा की न्यायिक हिरासत बढ़ा दी गई है। गुरुवार को  मुंबई की एस्प्लेनेड कोर्ट (Esplanade court) में उनके पेशी हुई।

क्या  है घोटाला

दरअसल, पीएमएसी बैंक में 4, 355 करोड़ा का घोटाला हुआ। बैंक ने रियल एस्टेट कंपनी एचडीआइएल को दिए कर्ज के बारे में सही जानकारी उपलब्ध नहीं कराई थी, जिसके बाद बैंक ने एचडीआइएल को 73 फीसद  ऋण  दिया था। इस पूरे मामले में बैंक के पूर्व अध्यक्ष और एचडीआइएल के दो निदेशकों की हिरासत भी पिछले दिनों बढ़ाई गई थी।

इन लोगों की हो चुकी है गिरफ्तारी

इस पूरे मामले पर हाउसिंग डेवलपमेंट इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड (एचडीआइएल) के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक राकेश वधावन और उनके बेटे सारंग की गिरफ्तारी हो चुकी है। दोनों को 4,355 करोड़ रुपये के बैंक घोटाला गिरफ्तार किया गया है। मुंबई पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा (ईओडब्ल्यू) ने तीनों की गिरफ्तारी की थी।

निकासी राशि हुई कम

इस पूरे घोटाले का खुलासा होने के बाद सरकार की तरफ से निकासी राशि भी कम कर दी गई थी। जिसके बाद बैंक खाताधारक अपने ही पैसे निकालने के लिए काफी दिक्कतों का सामना कर रहे हैं। खाताधारकों ने बैंक अधिकारियों के खिलाफ जमकर प्रदर्शन भी किया। 

निर्मला सीतारमण की उम्मीद

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बैंक खाताधारकों को उम्मीद जताई थी कि वह इस संदर्भ में आरबीआइ गवर्नर से बातचीत करेंगी, लेकिन वह इससे विफल होती हुई नजर आ रही हैं। पिछले दिनों संजय गुलाटी नाम के एक शख्स की हार्ट अटैक से मौत हो गई थी। ये खाताधारक पीएमसी बैंक में हुई गड़बड़ी के खुलासे के बाद से काफी तनाव में था। इस पूरे मामले में हुई दो लोगों की मौत के बाद काफी तहलका मच चुका है। 

आपको बता दें कि पीएमसी बैंक महाराष्ट्र, नई दिल्ली, कर्नाटक, गोवा, गुजरात, आंध्र प्रदेश और मध्य प्रदेश में परिचालन के साथ एक बहु-राज्य अनुसूचित शहरी सहकारी बैंक है। 137 शाखाओं के नेटवर्क के साथ यह देश के शीर्ष 10 सहकारी बैंकों शामिल हैं। 

यह भी पढ़ें: PMC Bank Scam: संजय गुलाटी के बाद एक और खाताधारक की हार्ट-अटैक से मौत

 

Posted By: Pooja Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप