नई दिल्ली। संसद में जेएनयू की घटना को लेकर बवाल जारी है वहीं पुलिस भी मामले की जांच कर रही है। इस बीच मामले को लेकर बयानों का दौर जारी है। इसमें ताजा बयान आया है कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल का।

उन्होंने जेएनयू को लेकर कहा है कि जेएनयू की धटना देशद्रोह नहीं है लेकिन सरकार विवाद को बढ़ा रही है।सरकार युवाओं को बालने दे।

जेएनयू छात्रों पर देशद्रोह का आरोप लगाना हास्यास्पद : रामदास

सिब्बल से पहले पी चिदंबरम ने एक बयान में कहा था कि अफजल गुरु की फांसी पर कोर्ट से निर्णय पर संशय है।

मालूम हो कि जेएनयू में भारत विरोधी नारेबाजी होने के बाद पुलिस कन्हैया समेत उमर खालिद और अनिर्बान को देशद्रोह के आरोप में गिरफ्तार किया है। फिलहाल मामले की जांच जारी है वहीं विपक्ष भी इस मुद्दे को लेकर संसद में हंगामा कर रहा है।

देशद्रोह के आरोप हटवाने के लिए संसद तक मार्च करेंगे छात्र

Posted By: Manoj Yadav

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप