जम्मू, जागरण संवाददाता। जम्मू-कश्मीर के पुलिस महानिदेशक (जेल) एचके लोहिया का शव सोमवार देर रात संदिग्ध परिस्थितियों में उदेयवाला स्थित उनके दोस्त के घर बरामद हुआ। प्रारंभिक जांच के अनुसार, किसी तेजधार हथियार से लोहिया का गला रेता गया है। वहीं, शव को जलाने की भी कोशिश की गई है। घटना के बाद से फरार घर के नौकर पर ही हत्या का संदेह जताया जा रहा है। रात तक पुलिस जांच में जुटी रही। इस बीच, देर रात लोहिया का शव जम्मू के गवर्नमेंट मेडिकल कालेज (जीएमसी) अस्पताल में पहुंचाया गया।

नौकर चल रहा फरार

पुलिस महानिदेशक दिलबाग सिंह ने इसे बेहद दुर्भाग्यपूर्ण घटना बताया और कहा कि जसीर के रूप में पहचाने गए उसके घरेलू नौकर को पकड़ने के लिए तलाशी अभियान शुरू किया गया है। फिलहाल नौकर फरार है। सिंह ने जानकारी देते हुए कहा कि संदिग्ध ने 57 वर्षीय लोहिया के शरीर को आग लगाने का भी प्रयास किया। बता दें कि लोहिया को अगस्त में केंद्र शासित प्रदेश में जेलों का महानिदेशक नियुक्त किया गया था।

शरीर पर जलने के निशान

जम्मू क्षेत्र के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक मुकेश सिंह ने जम्मू के बाहरी इलाके में उदयवाला में घर का दौरा कर कहा कि 1992 बैच के आईपीएस अधिकारी लोहिया के शरीर पर जलने के निशान मिले और उनका गला कटा हुआ पाया गया था। घटना स्थल की प्रारंभिक जांच से संकेत मिलता है कि लोहिया ने अपने पैर में कुछ तेल लगाया होगा जिसमें कुछ सूजन दिखाई दे रही थी।

केचअप की टूटी बोतल से गला काटा

पुलिस के अनुसार हत्यारे ने पहले लोहिया का दम घोंटकर हत्या की और उसके बाद गले को काटने के लिए केचअप की टूटी हुई बोतल का इस्तेमाल किया और बाद में शव को आग लगाने की कोशिश की। अधिकारी के आवास पर मौजूद गार्डों ने लोहिया के कमरे के अंदर आग देखी। उन्होंने बताया कि दरवाजा अंदर से बंद होने के कारण उन्हें तोड़ना पड़ा।

यह भी पढ़ें- Kashmir के कुलगाम में SIU ने दो आतंकियों के घरों की ली तलाशी, कईं महत्वपूर्ण दस्तावेज बरामद

तरुण चुग बोले- जम्मू कश्मीर में प्रेमनाथ डोगरा की सोच वाली भाजपा सरकार बनने से कोई नहीं रोक सकता

Edited By: Mahen Khanna

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट