नई दिल्ली,एएनआइ। भारत और चीन के संबंधों पर बुधवार को कहा कि भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (ITBP) के महानिदेशक एसएस देशवाल ने कहा कि हम दोनों देशों (चीन और भारत) के बीच अच्छे संबंध हैं। उन्होंने ये भी कहा कि हमारे पास समस्याओं को हल करने के लिए पूर्वनिर्धारित तंत्र हैं। हम राष्ट्र को आश्वस्त करना चाहते हैं कि सीमाएं सुरक्षित हैं।

  

देशवाल ने कहा कि पिछले पांच से छह सालों में बॉर्डर एरिया में काफी सड़कों को निर्माण किया गया है। फिलहाल, हमारे पास 180 बॉर्डर आउट पोस्ट (BOPs) हैं और जल्द ही हम इनकी संख्या बढ़ा देंगे। चीन लगातार भारत सीमा पर चौकसी बढ़ा रहा है। चाहे तो डोकलाम विवाद रहे हो या फिर उत्तराखंड़ में चीनी सेना द्वारा की गई घुसपैठ। कई बार ऐसा मौके आए हैं जब बॉर्डर पर चीन की सेना और भारत की सेना आमने सामने आई हैं। हालांकि, हर बार ही मामले को सुलझा दिया गया। 

गौरतलब है कि हाल ही में चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग दो दिवसीय भारत दौरे पर आए थे। इस दौना उन्होंने तमिसनाडु में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ अनौपचारिक बैठक की थी। इस दौरान दोनों ने काफी मुद्दों पर चर्चा की थी। दोनों देश इस बात को अच्छे से मान चुके हैं कि सीमो को लेकर हमेशा से ही दोनों देशों के बीच काफी विवाद रहा है। सीमा विवाद को लेकर भारत और चीन के बीच बातचीत जारी है और भारत की तरफ से अजीत डोभाल चीन से बात कर रहे हैं। 

कनेक्टिविटी को लेकर भीरत चीन बॉर्डर पर शुरू से ही विवाद रहा है। इस साल के अंत तक बॉर्डर पर कई प्रोजेक्ट को पूरा किया जाएगा। इससे उन इलाकों में जो लोग रहते हैं उन्हें काफी मदद मिलेगी। लोगों के साथ-साथ सैनिक भी तुरंत ही लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल पर सैनिक तुरंत वहां पर पहुंच भी सकते हैं औप वापस भी आ सकते हैं। 

Posted By: Ayushi Tyagi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप